BREAKING NEWS
बिहारशरीफ में ईडी का बड़ा छापा : क्रिप्टो करेंसी से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग रैकेट का भंडाफोड़...        सदर अस्पताल बिहारशरीफ में मरीज को कंधो का सहारा...        लूट का आरोपी गिरफ्तार : पुलिस ने दिया अपराधियों को चुनौती, जल्द होंगे बाकी सभी काबू...        बेटी के जन्मदिन के लिए कर्ज वापसी की मांग पर महिला की निर्मम हत्या, आरोपी फरार...        पीसविंग प्रोडक्शन का नया प्रोजेक्ट : लीगल बाबा जल्द होगी रिलीज...        महिलाएं अब अपनी सुरक्षा के लिए स्वतंत्र होकर बोल सकती है : जानिए अपनी नजदीकी थाने का महिला हेल्प डेस्क नंबर...        बेगूसराय में भीषण सड़क दुर्घटना में नालंदा के युवक समेत पांच की मौत, दो गंभीर...        बिहार में जारी है बदलाव का दौर: जानिए नालंदा, नवादा और बेगूसराय में कौन संभालेगा प्रखंडों की कमान...        लायंस क्लब ऑफ नालंदा ने डॉक्टर्स और चार्टर्ड अकाउंटेंट डे पर किया विशेषज्ञों का सम्मान...        ससुराल में रह रहे दामाद की संदिग्ध मौत : घटना के जांच में जुटी पुलिस...       
post-author
post-author

हरिद्वार में उमड़ा आस्था का सैलाब : हरकी पैड़ी पर पैर रखने तक की जगह नहीं | होटल,धर्मशाला हुए फूल : स्टेशन पर श्रद्धालुओं का बसेरा

Breaking News 16-Jun-2024   11415
post

हरिद्वार : रविवार को गंगा दशहरा और निर्जला एकादशी के पावन स्नान पर्व पर गंगा स्नान के लिए हरिद्वार में आस्था का सैलाब उमड़ पड़ा। हजारों श्रद्धालु तड़के से ही हरकी पैड़ी पर जुटने लगे और गंगा स्नान व दान कर पुण्य कमाया। वहीं हरकी पैड़ी पर इतनी भीड़ उमड़ी कि पैर रखने तक की जगह नहीं है। तुलसी पीठाधीश्वर स्वामी रामभद्राचार्य महाराज ने भी कनखल में गंगा दशहरा के दिन गंगा स्नान किया। उधर, रविवार को वीकेंड के साथ ही स्नान पर्व एक साथ होने से पुलिस के लिए भी चुनौती है। वीकेंड पर ही भारी भीड़ उमड़ने से जाम लग रहा है। अब ऐसे में स्नान पर्व पड़ने से अत्यधिक भीड़ आने की संभावना है। इसलिए यातायात व्यवस्था बनाए रखना बड़ी चुनौती रही। हरिद्वार में मेला क्षेत्र को तीन सुपर जोन, 10 जोन और 26 सेक्टरों में विभाजित किया गया था। साथ ही पूरे मेला क्षेत्र में पुलिस फोर्स की तैनाती कर दी गई थी।पुरोहितों का मानना है कि गंगा दशहरा का पर्व तब से शुरू हुआ जब से मां गंगा धरती पर अवतरित होकर हरिद्वार में आईं। इसी दिन गंगा पुत्र भीष्म का भी जन्मदिन होता है। मान्यता है कि इस दिन हरिद्वार हरकी पैड़ी में स्नान करने से 10 प्रकार के पापों का शमन होता है।भारतीय प्राच्य विद्या सोसायटी कनखल हरिद्वार के प्रतीक मिश्रपुरी का कहना है कि देवभूमि शारीरिक, मानसिक, आध्यात्मिक दृष्टि से मोक्षदायिनी धरती है। गंगा दशहरा का महात्म्य 10 योग से भी जुड़ा है। इसी योगिनियों में मां गंगा का अवतरण हरिद्वार में हुआ।इन योग की गणना ज्येष्ठ मास, शुक्ल पक्ष, दशमी तिथि, दिन बुधवार, हस्त नक्षत्र, कन्या राशि में चंद्रमा, वृष राशि में सूर्य, तातिल करण आदि से जोड़ा जाता है। इस 10 योग में इस बार गंगा दशहरा पर छह योग बन रहे हैं।उधर, शहर में स्नान पर्व को लेकर पुलिस ने यातायात रूट डायवर्ट किया है। यातायात प्लान शनिवार रात 12 बजे से लागू कर दिया गया , जो 18 जून निर्जला एकादशी का स्नान संपन्न होने तक लागू रहेगा। साथ ही शनिवार रात 12 बजे शहर में भारी वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।


होटलों और धर्मशाला में जगह नहीं : स्टेशन पर सोने को मजबूर हुए श्रद्धालु

श्रद्धालुओं की भारी भीड़ की वजह से हरिद्वार की धर्मशाला, होटल और पार्किंग भी रविवार की देर शाम तक फूल हो चुका था। जिससे श्रद्धालुओं को रहने के छत नहीं मिला तो वो खुले आसमान के नीचे स्टेशन पर ही अपना बसेड़ा बना कर रात गुजारने को मजबूर हुए। वहीं पुलिस ने भीड़ को नियंत्रित करने का किया प्लान तैयार किए थे।वहीं उत्तराखंड के अन्य पर्यटन स्थल मसूरी, नैनीताल, ऋषिकेश, रानीखेत समेत अन्य जगहों पर पर्यटकों की भीड़ भी लगातार बढ़ रही है लेकिन फिर भी उत्तराखंड सरकार की ओर से सुविधाओ की उचित व्यवस्था नहीं की जा रही है।

post-author

Realated News!

Leave a Comment

Sidebar Banner
post-author
post-author