BREAKING NEWS
बिहारशरीफ में ईडी का बड़ा छापा : क्रिप्टो करेंसी से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग रैकेट का भंडाफोड़...        सदर अस्पताल बिहारशरीफ में मरीज को कंधो का सहारा...        लूट का आरोपी गिरफ्तार : पुलिस ने दिया अपराधियों को चुनौती, जल्द होंगे बाकी सभी काबू...        बेटी के जन्मदिन के लिए कर्ज वापसी की मांग पर महिला की निर्मम हत्या, आरोपी फरार...        पीसविंग प्रोडक्शन का नया प्रोजेक्ट : लीगल बाबा जल्द होगी रिलीज...        महिलाएं अब अपनी सुरक्षा के लिए स्वतंत्र होकर बोल सकती है : जानिए अपनी नजदीकी थाने का महिला हेल्प डेस्क नंबर...        बेगूसराय में भीषण सड़क दुर्घटना में नालंदा के युवक समेत पांच की मौत, दो गंभीर...        बिहार में जारी है बदलाव का दौर: जानिए नालंदा, नवादा और बेगूसराय में कौन संभालेगा प्रखंडों की कमान...        लायंस क्लब ऑफ नालंदा ने डॉक्टर्स और चार्टर्ड अकाउंटेंट डे पर किया विशेषज्ञों का सम्मान...        ससुराल में रह रहे दामाद की संदिग्ध मौत : घटना के जांच में जुटी पुलिस...       
post-author
post-author

मेमोरी लॉस सीएम है नीतीश : सम्राट चौधरी

Politics 05-May-2023   9644
post

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष और नेता प्रतिपक्ष पहुंचे बिहार शरीफ

 8 मई को राज्यपाल से करेंगे नीतीश सरकार की शिकायत

बिहारशरीफ : बिहार बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी और नेता प्रतिपक्ष विजय कुमार सिन्हा शुक्रवार को बिहार शरीफ पहुंचे। उन्होंने मनीराम अखाड़ा पहुंचकर पूजा-अर्चना की। उसके बाद पहड़पुरा निवासी मृत किशोर के परिजनों से मिलकर उन्हें सांत्वना दी। इससे पहले सर्किट हाउस में पत्रकारों से बात करते हुए राज्य सरकार और जिला प्रशासन पर जमकर निशाना साधा।प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि बिहार शरीफ घटना की रिपोर्ट पार्टी को भेजी गई है। बीजेपी इस मामले की न्यायिक जांच कराने की मांग कर रही है। आज उनके बिहार शरीफ पहुंचने पर पुलिस का सख्त पहरा लगाया गया है। घटना के दिन अगर पुलिस रहती तो मर्डर नहीं होता, गोली नहीं चलती। कार्यक्रम की सूचना पर प्रशासन ने चोरी-छिपे रथ को अखाड़ा पहुंचा दिया। नीतीश कुमार के राज में पूजा पर प्रतिबंध लगाया जा रहा है। यह तुष्टीकरण की राजनीति है। सनातनी सभी धर्मों का सम्मान करते हैं। उन्होंने मांग की कि इस मामले की जांच हाईकोर्ट के सिटिंग जज के माध्यम से कराई जाए। साथ ही उन्होंने कहा कि आठ तारीख को राज्यपाल से मिलकर सरकार की शिकायत करेंगे। इस मामले की रिपोर्ट मांगने का आग्रह करेंगे।सम्राट चौधरी ने एक सवाल के जवाब में कहा कि नीतीश कुमार कि अब उम्र हो चली है, वे अब बूढ़े बुजुर्ग हो गए हैं। मेमोरी लॉस सीएम हैं, जितने पार्टी के लोग विपक्षी एकता को लेकर आएंगे। उनसे जरूर आग्रह करेंगे कि लिखवाकर रख लीजिएगा, नहीं तो ये भुला जाते हैं। साल 1977 में जब ये कर्पूरी ठाकुर के नहीं हुए, लालू प्रसाद के नहीं हुए, देवीलाल जी के नहीं हुए, वीपी सिंह जी के नहीं हुए, जॉर्ज साहब के नहीं हुए, शकुनी चौधरी जी के नहीं हुए, स्वर्गीय दिग्विजय सिंह के नहीं हुए और शरद यादव जी के नहीं हुए हैं। ऐसे हजारों की गिनती है, जिसके नीतीश नहीं हुए। जिला प्रशासन के द्वारा चुपके से शुक्रवार की सुबह रामलला का रथ अखाड़ा पर पहुंचा दिया गया। जबकि इसके पूर्व नेता प्रतिपक्ष के साथ ही यह बात तय हुई थी कि सभी सनातन धर्म के लोगों के साथ रथ को अखाड़ा पर पहुंचाया जाएगा। लेकिन जिला प्रशासन के द्वारा चुपके से रथ को अखाड़ा पर पहुंचा दिया गया। इसी के विरोध स्वरूप बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष एवं नेता प्रतिपक्ष, स्थानीय विधायक एवं बीजेपी कार्यकर्ता अखाड़ा पर धरना पर बैठ गए।

post-author

Realated News!

Leave a Comment

Sidebar Banner
post-author
post-author