BREAKING NEWS
बिहारशरीफ में ईडी का बड़ा छापा : क्रिप्टो करेंसी से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग रैकेट का भंडाफोड़...        सदर अस्पताल बिहारशरीफ में मरीज को कंधो का सहारा...        लूट का आरोपी गिरफ्तार : पुलिस ने दिया अपराधियों को चुनौती, जल्द होंगे बाकी सभी काबू...        बेटी के जन्मदिन के लिए कर्ज वापसी की मांग पर महिला की निर्मम हत्या, आरोपी फरार...        पीसविंग प्रोडक्शन का नया प्रोजेक्ट : लीगल बाबा जल्द होगी रिलीज...        महिलाएं अब अपनी सुरक्षा के लिए स्वतंत्र होकर बोल सकती है : जानिए अपनी नजदीकी थाने का महिला हेल्प डेस्क नंबर...        बेगूसराय में भीषण सड़क दुर्घटना में नालंदा के युवक समेत पांच की मौत, दो गंभीर...        बिहार में जारी है बदलाव का दौर: जानिए नालंदा, नवादा और बेगूसराय में कौन संभालेगा प्रखंडों की कमान...        लायंस क्लब ऑफ नालंदा ने डॉक्टर्स और चार्टर्ड अकाउंटेंट डे पर किया विशेषज्ञों का सम्मान...        ससुराल में रह रहे दामाद की संदिग्ध मौत : घटना के जांच में जुटी पुलिस...       
post-author
post-author

झोला छाप डॉक्टर के कारण युवक की चली गई जान : क्लीनिक में शव को बंद कर हुआ फरार

Bihar 13-Jun-2023   10074
post

नालंदा : जिले के बिंद थाना क्षेत्र में एक झोलाछाप डॉक्टर के कारण युवक की जान चली गई । मौत के बाद शव को कमरे में बंद कर फरार हो गया। बाद में पुलिस ने ताला तोड़कर शव को बाहर निकाला । मामला बिंद थाना क्षेत्र अंतर्गत कथराही गांव का है। मृतक रामबलि यादव का 40 वर्षीय पुत्र संजीत यादव है। पुलिस मौत के कारणों का पता लगाने के लिए शव का बिहारशरीफ सदर अस्पताल में पोस्टमार्डम कराया। मृतक के भाई ने बताया कि उसके पैर में जख्म था। जिसका इलाज कराने वह सोमवार की शाम गांव के ही बिपिन यादव के यहाँ गया था। काफी देर बीत जाने के बावजूद भी वह घर नहीं लौटा तो खोजबीन की जाने लगी। विपिन यादव के क्लीनिक के पास भी जाकर देखा गया। क्लीनिक बाहर से बंद था और अंदर की लाइट और पंखे चल रहे थे। संदेह होने के तत्काल इसकी सूचना पुलिस को दी । पुलिस मौके पर पहुंची तो क्लीनिक का ताला तोड़ा गया संजीत के शव को बाहर निकाला । परिजन जानबूझकर जहर वाला इंजेक्शन देने का आरोप लगा रहे हैं । युवक बीहटा-सरमेरा टू- लेन पर जनरल स्टोर की दुकान चलाकर अपने परिवार का भरण पोषण कर रहा था। मृतक की तीन बेटियां एवं दो बेटे हैं। बड़ी बेटी की शादी की बात भी चल रही थी। वहीं इस घटना के बाद पूरे परिवार में कोहराम मच गया है। परिवार वालों के चीत्कार से गांव का माहौल गमगीन हो गया है। बिंद थानाध्यक्ष सुधीर कुमार ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही मौत के कारणों का खुलासा हो सकेगा। शव को पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को हवाले कर दिया गया है।जबकि आपको बता दे की अगर सरकार और सरकारी स्वास्थ व्यवस्था प्रखंड स्तर पर अगर दुरुस्त होती तो न तो ये झोला छाप डॉक्टर होते ना मरीजों को उनके पास जाने की नौबत आती।कहीं न कहीं इस मौत का जिम्मेदार जिले का ध्वस्त स्वास्थ व्यवस्था भी है।

post-author

Realated News!

Leave a Comment

Sidebar Banner
post-author
post-author