मुजफ्फरपुर में खूनी संघर्ष, उपद्रवियों ने जलाया घर, भारी मारपीट के बाद पहुंची पुलिस

मुजफ्फरपुर. बिहार पंचायत चुनाव (Bihar Panchayat Election 2021) को लेकर चुनावी रंजिश की खबरें भी लगातार आ रही हैं. हालिया मामला बिहार के मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) जिले का है जहां चुनावी रंजिश में भारी बवाल की खबर है. मिली जानकारी के अनुसार जिले के कुढ़नी थाना क्षेत्र के चन्द्रहट्टी गांव में सोमवार की देर रात चुनावी विवाद में उपद्रवियों ने 2 घरों को जला दिया. वहीं इस दौरान जमकर मारपीट भी हुई, जिसमें आधा दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं. घायलों को इलाज के लिए मुजफ्फरपुर के एसकेएमसीएच (SKMCH) अस्पताल में भर्ती कराया गया है. घटना की सूचना मिलते ही कुढ़नी थाने की पुलिस मौके पर दल-बल के साथ पहुंची और किसी तरह मामले को शांत कराया.

बताया जाता है कि चन्द्रहट्टी गांव में दो पक्षों के बीच चुनाव प्रचार को लेकर पहले विवाद हुआ और उसके बाद घटना मारपीट में तब्दील हो गयी. दरअसल बिहार पंचायत चुनाव के लिए दो पक्ष अपने-अपने प्रत्याशियों के लिए प्रचार कर रहे थे. इसी दौरान किसी बात को लेकर दोनों पक्षों के बीच बातचीत बढ़ी और मामला मारपीट तक पहुंच गया. मारपीट की घटना में रंजीत सहनी, शकिन्द्र सहनी, बालिन्द्र सहनी समेत 6 लोग घायल हुये हैं.

हिरासत में लिए गए 3 लोग, नियंत्रण में स्थिति
थानाप्रभारी अरविंद पासवान के अनुसार घटना के बाद पुलिस ने दोनों पक्षों की ओर से 3 लोगों को हिरासत में लिया है. उनसे पूछताछ की जा रही है. थानाप्रभारी ने बताया कि विक्रम सहनी और रंजीत सहनी के बीच किसी बात को लेकर विवाद हुआ था, जिसके बाद हंगामे की खबर आई थी. हालांकि पुलिस के आने बाद स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है. घटना में संलिप्त कुछ और लोगों की तलाश की जा रही है. मामले की जांच कर दोषियों के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी.

स्थानीय लोगों की मदद से आग पर पाया गया काबू
घटना को लेकर मुखिया अनीश कुमार ने बताया कि यहां इससे पहले भी मारपीट की घटना हुई थी. लेकिन, इस बार बवाल ज्यादा बढ़ गया और एक पक्ष ने दूसरे पक्ष के घरों में आग तक लगा दी. उन्होंने बताया कि जैसे ही उन्हें घटना की सूचना मिली वह मौके पर पहुंचे और स्थानीय लोगों की मदद से किसी तरह आग पर काबू पाया. फिर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर आगे की कार्रवाई की. बता दें, चुनाव प्रचार के दौरान वर्चस्व दिखाने को लेकर विवाद बढ़ा जिसके बाद इतना बवाल हुआ है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *