पत्रकार अविनाश झा , गोघना की छात्रा पूनम की निर्मम हत्या के विरुद्ध एआईएसएफ द्वारा प्रतिवाद मार्च व नीतीश का किया पुतला दहन

तेघड़ा (बेगूसराय) बिहार में लगातार गिर रही कानून व्यवस्था एवं सरकार की हर क्षेत्रों में लाइन इन ऑर्डर बिल्कुल धराशाई नजर आ रही है। सरकार की हर घोषणाएं बिल्कुल नकारा साबित हो रही है यहां तक की सुबे के अंदर आज पत्रकार सुरक्षित नहीं रहे सच्चाई को उजागर करने पर पर उनकी निर्मम हत्या हो रही है। खास करके बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान का सीधा उल्टा असर हो रहा है बिटिया आज दरिंदगी की भेंट चढ़ रही है । शराबबंदी के आड़ में गरीब और लाचार को परेशान किया जा रहा है। जो इसके संचालक हैं उसे पुलिस प्रोडक्शन मिल रहा है। अब बिहार सीधा विकास नहीं विनाश की ओर बढ़ रही है । उक्त बातें एआईएसएफ के तेघरा अंचल सचिव मोहम्मद हसमत उर्फ बालाजी ने। दोनों घटना के विरुद्ध प्रति विरोध मार्च के अवसर पर तेघरा चौक के समीप मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के पुतला दहन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा। सरकार एवं प्रशासन के विरुद्ध एआईएसएफ तेघरा द्वारा रामेश्वर भवन स्मारक कम्युनिस्ट पार्टी अंचल कार्यालय से भारी संख्या में गगनचुंबी सरकार एवं प्रशासन विरोधी नारे के साथ पूरे बाजार का परिभ्रमण करते हुए तेघरा मुख्य चौक पर एक सभा में तब्दील हो गई जहां मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का चौराहे पर पुतला दहन कर विरोध प्रदर्शन किया गया।
जिला परिषद सदस्य प्रिंस कुमार एवं सोनू कुमार ने संयुक्त रूप से कहा छात्रों के उपर जो अत्याचार किया गया है इसका मैं निंदा करते हुए इस सभा में बहन रूपम को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए हम संकल्प लेते हैं जबतक अपराधियों को करी सजा नहीं हो जाती है उस समय तक हमलोग लड़ते रहेंगे हम प्रशासन से मांग करते हैं आगे कोई छात्रों पर अपराधियों के द्वारा जुल्म नहीं किया जाए इसलिए असमाजिक तत्वों को चिन्हित करते हुए उनपर कारवाई करें तथा सभी पत्रकार साथियों की सुरक्षा की गारंटी करें
इस सभा के माध्यम से हम यह भी मांग दोहराते हैं जिस लड़ाई को एआईएसएफ वर्षों से लड़ते आ रहा है कि कोई भी छात्रों को शिक्षा ग्रहण करने के लिए दुर नहीं जाना पड़े इसलिए अविलंब तेघड़ा अनुमंडल क्षेत्र में सरकारी डिग्री कॉलेज एवं बेगूसराय जिले में राष्ट्र कवि रामधारी सिंह दिनकर के नाम पर विश्वविद्यालय की स्थापना करें अन्यथा एआईएसएफ आंदोलन करने के लिए बाध्य होगा।
इस मौके पर मोहम्मद तौशिफ रेजा,सिनू कुमार, निशांत कुमार, मोहम्मद अबु साईद,मोहम्मद साहाबुल,रामशंकर पाठक, रौशन कुमार, विष्णु कुम,देव कुमार, जितेंद्र कुमार, अली जौहर,मोहम्मद सैफुल इस्लाम, रोहित देव,विशाल कुमार, अंकीत कुमार, उमेश कुमार, अभिषेक कुमार, मोहम्मद अरबाज, मोहम्मद शाहाबुल,धर्मेंद्र कुमार सहित दर्जनों छात्र उपस्थित थें।

टेघड़ा से अशोक कुमार ठाकुर की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *