ESC

मुजफ्फरपुर में तीन बड़े पान मसाला कारोबारियों के ठिकानों पर आयकर विभाग की छापेमारी : मचा हड़कंप

बिहार के मुजफ्फरपुर में आयकर विभाग की टीम ने तीन बड़े पान मसाला और जर्दा कारोबारियों के ठिकानों पर छापेमारी की है। इससे शहर के बड़े व्यापारियों में हड़कंप मच गया है। मुजफ्फरपुर के कई व्यापारियों ने बुधवार को अपनी दुकानें नहीं खोलीं। आयकर विभाग की चार टीमें बुधवार सुबह करीब 6 बजे तीन बड़े कारोबारियों के घर और गोदामों पर छापा मारने पहुंचीं। इन पर बड़े पैमाने पर टैक्स चोरी का मामला है। तीनों व्यापारी का उत्तर बिहार से नेपाल तक कारोबार फैला हुआ है।

जानकारी के मुताबिक इनकम टैक्स की टीम ने कृष्णा टाकिज के सामने गली राजेश अग्रवाल उर्फ बाबु भाई, आमगोला माली गली में प्रदीप शर्मा, छोटी कल्याणी में ग्रीन केसरी और दिलीप केसरी के ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की। सुबह जैसे ही पान मसाला कारोबारी उठे उन्हें अपने घर में इनकम टैक्स अधिकारियों को पाया। फिलहाल आयकर विभाग की कार्यवाही जारी है।

ग्रीन केसरी और दिलीप केसरी आपस में चाचा-भतीजा हैं। दिलीप केसरी नगर निकाय का चुनाव लड़ चुके है। जबकि प्रदीप शर्मा जर्दा कारोबारी राजेश अग्रवाल से जुड़ा हुआ है। दिलीप और ग्रीन केसरी का कल्याणी चौक पर घर और पान मंडी में गोदाम है। जहां आज सुबह सबसे पहले टीम पहुंची। इनकम टैक्स की टीम आज सुबह करीब 6 बजे एक साथ करीब 30 गाड़ियों से अलग अलग पान मसाला कारोबारियों के घर पहुंची।

स्थानीय लोगों ने बताया कि जब सुबह इनकम टैक्स का काफिला कॉलोनी में पहुंचा तो ऐसा लगा कि मानो किसी आतंकवादी को पकड़ने के लिए गाड़ियां सायरन बजाते हुए आई हैं। पिछले कई माह से पान मसाला और जर्दा कारोबारियों के सिंडिकेट के लेनदेन और नकदी की आवाजाही पर आयकर विभाग की नजर थी। आयकर विभाग ने पाया कि पान मसाला समूह अपनी नकदी को रियल एस्टेट कारोबार में लगा रहा है। लंबी निगरानी के बाद बुधवार को इनकम टैक्स की टीम ने पान मसाला कारोबारियों के घर, दुकान और गोदाम में छापेमारी की है। टीम ने कई दस्तावेज कब्जे में लिए है। हालांकि कागजातों के संबंध में छापेमारी टीम जानकारी नहीं दे रही है।

1 thought on “मुजफ्फरपुर में तीन बड़े पान मसाला कारोबारियों के ठिकानों पर आयकर विभाग की छापेमारी : मचा हड़कंप

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ESC