ESC

मोतिहारी के स्कूलों में घुसा गंडक नदी का पानी : छपरा के तटीय इलाके बाढ़ में डूबे

Motihari : पिछले दिनों हुई लगातार बारिश से बिहार में गंडक नदी उफान पर है, इससे पूर्वी चंपारण और सारण जिले के कई इलाकों में बाढ़ के हालात पैदा हो गए हैं। मोतिहारी के कई स्कूलों में बाढ़ का पानी घुस गया है, तो छपरा के तटीय इलाकों में कटाव तेज हो गया है। गोपालगंज जिले के बैकुंठपुर में निचले इलाकों में बसे गांवों के दो सौ घर बाढ़ के पानी से गिरे हुए हैं। हालांकि, कोसी और सीमांचल में नदियों का जलस्तर अब कम होने लगा है। फिर भी कटिहार और खगड़िया जिले में गंगा, महानंदा और गंड़ नदी का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है।पूर्वी चंपारण जिले के केसरिया प्रखंड में गंडक नद का पानी फैलने से कई गांवों में लोगों की परेशानी बढ़ गई है। प्रखंड के तीन स्कूलों में बाढ़ का पानी घुसने से बच्चों की पढ़ाई ठप हो गई है। स्कूल बंद होने से दो स्कूलों के शिक्षकों की तैनाती दूसरे स्कूलों में कर दी गई है। सारण जिले के तरैया प्रखंड में सगुनी और चंचलिया गांव में गंडक नदी का पानी तेजी से बह रहा है। इस कारण गांव के तटीय इलाकों पर बसे कई घर बाढ़ की जद में आ गए हैं। घरों और खेतों में नदी का पानी फैल गया है। इससे किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें खिंच गई हैं। सगुनी, जिमदहा, बांध के पूर्वी क्षेत्र के संग्रामपुर, रसीदपुर और मोलानपुर गांव के चंवरो में गंडक नदी का पानी तेजी से फैल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ESC