ESC

दो आईपीएस और पांच पुलिस अधिकारियों को केंद्र सरकार करेगी सम्मानित

पटना : देश में बेहतर काम करने वाले अधिकारियों और आईपीएस को केंद्रीय गृह मंत्री पदक से सम्मानित करने के लिए चयनित किया गया है. इसमें बिहार के दो आईपीएस अधिकारियों के साथ दो इंस्पेक्टर और तीन सब इंस्पेक्टर शामिल हैं. क्राइम की घटनाओं में बेहतरीन काम करने के लिए देश में अधिकारियों को ये सम्मान दिया जाता है. इन नामों की घोषणा शुक्रवार को की गयी है. इस लिस्ट में देशभर के के पुलिस अधिकारी, सीबीआई, एनआईए और एनसीबी के अधिकारियों व अफसरों के नाम शामिल हैं.

नाबालिग से गैंगरेप और हत्या मामले की जांच में सायली को मिलेगा सम्मान

आईपीएस सायसी सावलाराम धूरत को केंद्रीय गृह मंत्री पदक अररिया में नाबालिग से गैंगरेप और हत्या मामले को सुलझाने के लिए दिया जा रहा है. सायसी सावलाराम 2010 बैच की आईपीएस अधिकारी हैं. वर्तमान में पटना में डायल 112 की एसपी एडमिन हैं. जिस घटना के लिए उन्हें सम्मानित किया जा रहा है वो घटना 2019 में घटी थी. मामले में नाबालिग के साथ गैंग रेप करके उसकी हत्या कर दी गयी थी. इसके बाद उसकी लाश को फेंक दिया गया था. उस वक्त सायली अररिया की एसपी थी. उन्होंने इस ब्लाइंड केस में तेजी से जांच करते हुए चार लोगों को गिरफ्तार किया था. साथ ही, सभी सजा कोर्ट से दिलवायी.

विनय तिवारी ने इंडिगो के मैनेजर की हत्याकांड की जांच की

वर्ष 2021 में इंडिगो एयरलाइंस कंपनी के एक मैनेजर की हत्या उनके घर के बाहर गोली मारकर कर दी गयी. इस वारदात ने पूरे राज्य में सनसंनी मचा दी. जब ये घटना हुई विनय तिवारी पटना के सिटी एसपी सेंट्रल थे. इसी दिन शास्त्रीनगर थाना की कमान इंस्पेक्टर रामाशंकर सिंह ने संभाला था. केस की जांच के लिए स्पेशल टीम बनायी गयी. इसे विनय तिवारी लीड कर रहे थे. इसमें इस स्पेशल टीम में इंस्पेक्टर रामशंकर सिंह, पटना पुलिस के स्पेशल सेल के इंस्पेक्टर विनय प्रकाश, सब इंस्पेक्टर मनोज कुमार राय, मो. चांद परवेज और मो. गुलाम मुस्तफा शामिल थे। टीम ने बेहतरीन जांच करते हुए अपराधियों को जल्द पकड़कर जेल में डाल दिया. इसके लिए उन्हें ये सम्मान दिया जा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ESC