राम कथा ज्ञान यज्ञ में श्रद्धालुओं की उमड़ी भीड़

वीरपुर (बेगुसराय) सोमवार को पूर्व विधायक शिवदानी प्रसाद सिंह के निवास स्थान वीरपुर पर नौ दिनों का राम कथा ज्ञान यज्ञ के आठवें दिन मैसूर से आए कथाकार डॉक्टर वीरेश कुमार रंजन ने प्रेम होने, संशय होने और भक्ति होने पर भगवान का विराट रूप का दर्शन होने की बातें कहीं। उन्होंने कथा को आगे बढ़ाते हुए बताया है कि प्रजापति दक्ष की पुत्री सती जी को जब मन में संसय,उत्पन्न हुआ की श्रीराम चक्रवर्ती राजा दशरथ के पुत्र है,भगवान कैसे हो सकते हैं।माता कौशल्या को जब पुत्र के रूप में प्रेम उत्पन्न हुआ तब भगवान ने विराट रूप का दर्शन दिए। और मनु, शतरूपा को जब मन में भक्ति जगा एवं तपस्या में लीन हो गई गए । तब भगवान दर्शन दिए। डॉ कुमार ने आगे बताया कि भगवान का भजन जिस रूप में करें कल्याण होगा। भाव , कुभाव, अलख, आलस हूं। नाम जपत मंगल दिसी दस हूं।। मौके पर पूर्व प्रखंड प्रमुख मदन मोहन प्रसाद सिंह, डॉक्टर रामसागर सिंह, पूर्व मुखिया पंकज कुमार सिंह, समाजसेवी जोगिंदर सिंह उर्फ जोगी सिंह, शिक्षक बैजनाथ यादव, रामचरित्र यादव, दिलीप नारायण सिंह, अधिवक्ता धनंजय कुमार सहित कई महिलाएं ,व पुरुष कथा का आनंद ले रहे थे।

संतोष चौरसिया की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *