ESC

नदी में पुल नहीं रहने से प्रखंड मुख्यालय की दूरी 10 किमी बढ़ी

नालंदा : थरथरी प्रखंड के भातु बिगहा के निकट चिरैया नदी में पुल नहीं रहने के कारण प्रखंड मुख्यालय की दूरी 10 किमी अधिक तय करनी पड़ रही है। स्थानीय कई गांवों के लोग इस दूरी को कम करने के लिए बरसात में चचरी पुल का सहारा लेते थे। लेकिन कुछ माह पहले चचरी पुल टूट गयी। इस साल अब तक नदी नहीं आयी है। लोग जूते-चप्पल उतार नदी पार कर रहे हैं। लेकिन नदी में पानी आने पर रास्ता बंद हो जाएगा। चचरी पुल के लिए बांस बल्ले का प्रबंध भी नहीं हो सका है। क्योंकि चंदा एकत्र नहीं हो सका। अधिक बारिश होने पर नटाई चक, ढोटुचक, पमारा, नारायणपुर, वस्ता पर, कझियावां, भातु बिगहा, अमेरा आदि अन्य गांवों के वाशिंदों को प्रखण्ड मुख्यालय आने के लिए 10 से 12 किलोमीटर अधिक चलना पड़ रहा है। विद्यार्थियों का अधिक समय बर्बाद हो रहा है। सेवानिवृत्त शिक्षक राजेंद्र प्रसाद ने बताया कि सांसद एवं विधायक से पुल निर्माण का आग्रह कई वर्षों से किया जा रहा है। इन्होंने बताया कि चचरी पुल ग्रामीणों के सहयोग से बनाया जाता रहा है। ग्रामीण बैजू कुमार का कहना है कि अधिक भाड़ा होने के कारण किसानों को कृषि इनपुट मंगाना महंगा पड़ रहा है। जबकि अनाज प्रति क्विंटल सस्ता बिकता है। संजय कुमार ने बताया कि नदी में पुल बनना चाहिए। बांस-बल्ले का पुल जोखिम भरा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ESC