ESC

लापरवाही : पीएचसी रजौली में बंध्याकरण कर फरार हुए चिकित्सक एवं कर्मी

बिना बिजली के पीएचसी में ऑपरेशन कराई महिलाएं व परिजन रहे बेचैन

रजौली अनुमंडल अस्पताल का खुला राज अंधेरा में ही रहना पड़ा मरीज और उसके परिजन

नवादा से ऋषभ कुमार की रिपोर्ट

Nawada :रजौली प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में बृहस्पतिवार को बिजली नहीं रहने के कारण बंध्याकरण कराए मरीजों एवं परिजनों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।बृहस्पतिवार को पीएचसी प्रभारी डॉ बीएन चौधरी के नेतृत्व में प्रखण्ड क्षेत्र के 6 महिलाओं का बंध्याकरण किया गया।डॉक्टर साहब तो ऑपरेशन करके चले गए।किन्तु मरीजों की देखभाल करने वाला कोई नहीं था।इसी बीच शाम से लेकर पूरी रात्रि तक मरीज बिना बिजली के अंधेरे में रहने को मजबूर थे।

फरका बुजुर्ग पंचायत के गागन खुर्द गांव निवासी दीपक कुमार ने बताया कि उनकी बहन का बंध्याकरण हुआ है।बंध्याकरण के बाद नर्स के अलावे अस्पताल कर्मचारी का अस्पताल में होना चाहिए।किन्तु अस्पताल में सिर्फ मरीज एवं उसके परिजन मोबाइल लाइट के सहारे रहने को मजबूर है।वहीं मोहकामा गांव निवासी मीना देवी ने बताई कि एक ही परिसर में स्थित अनुमंडलीय अस्पताल में बिजली है किंतु पीएचसी में बिजली शाम से ही गायब है।ऐसे में मरीजों एवं परिजनों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।उन्होंने बताई कि अंधेरे में अस्पताल में डर भी लगता है और मच्छर भी काट रहे हैं।अगर मरीज का स्वास्थ्य सम्बन्धी किसी प्रकार की परेशानी हुई तो यहां देखने वाला कोई नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ESC