ESC

लखीसराय में भी बाढ़ का संकट गहराया : बड़हिया नगर के निचले इलाकों में घुसा गंगा का पानी

Lakhisarai : बिहार में बाढ़ ने फिर एकबार दस्तक दे दी है. कोसी-सीमांचल समेत अंग क्षेत्र की नदियों में उफान है. गंगा का पानी भागलपुर व मुंगेर के शहरी क्षेत्रों में प्रवेश कर चुका है. वहीं अब लखीसराय में भी बाढ़ का खतरा बढ़ता जा रहा है. गंगा का पानी बड़हिया नगर के निचले इलाकों में प्रवेश कर चुका है. जिले में गंगा के अलावे अन्य नदियों में भी उफान है. बाढ़ के भय से लोगों का जनजीवन प्रभावित हो रहा है.

बड़हिया नगर के निचले इलाकों में घुसा पानी

लखीसराय में बाढ़ ने दस्तक दे दी है. मंगलवार से बाढ़ अब विकराल रूप धारण करने की ओर बढ़ा है. गंगा ने यहां रौद्र रूप ले लिया है. गंगा का पानी बड़हिया नगर के निचले इलाकों में घुस चुका है.

हरूहर व किऊल नदी में भी ऊफान

पिपरिया प्रखंड के कई इलाकों में गंगा का पानी घुस चुका है. वहीं गंगा के साथ-साथ जिले में बहने वाली हरूहर व किऊल नदी में भी ऊफान है. कई इलाके जलमग्न होने लगे हैं. लोग मवेशियों व जरुरत की समानों के साथ सुरक्षित स्थानों की ओर जाने लगे हैं.

मुंगेर में गंगा डेंजर लेवल के करीब

गौरतलब है कि बिहार में बाढ़ से हालात बिगड़ने लगे हैं. मुंगेर में गंगा डेंजर लेवल से मात्र 69 सेंटीमीटर नीचे बह रही है. लेकिन जिले में बाढ़ के हालात उत्पन्न हो गयी है. जिसने तबाही मचानी शुरू कर दिया है. एक ओर जहां कई गांवों के संपर्क पथ पर बाढ का पानी ने जहां डेरा जमा लिया है. वहीं कई गांव बाढ़ की जद में आ गयी है. इतना ही नहीं पानी का फैलाव खड़गपुर, असरगंज, जमालपुर एवं धरहरा बहियार में भी तेजी से फैलता जा रहा है.

इलाहाबाद में बढ़े जलस्तर का बिहार पर असर

रविवार को गंगा का जलस्तर 38.55 मीटर पर था. केंद्रीय जल आयोग की माने तो सोमवार को चार घंटे में एक सेंटीमीटर की बढोतरी हो रही है. लेकिन पानी बढ़ने के आसार अभी बना हुआ है. मंगलवार को भी जलस्तर में बढोतरी होगी. क्योंकि इलाहाबाद में जलस्तर में बढोतरी जारी है. जलस्तर के बढने की रफ्तार में भले ही कमी आई हो लेकिन संभावना व्यक्त किया जा रहा है कि इस बार भी मुंगेर के लोगों को बाढ़ की विभिषिका का सामना करना पड़ेगा. हालांकि अभी भी डेंजर लेवल 39.33 से 69 सेंटीमीटर नीचे बह रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ESC