ESC

सफाई कर्मी के हड़ताल का प्रभाव : बिहारशरीफ बना स्मार्ट कचरा सिटी

बिहारशरीफ : शहर में सफाई कर्मी का हड़ताल प्रभाव पूरे शहर में देखने को मिल रहा है। नगर निगम द्वारा इसी तरह अगर मनमानी जारी रही और हड़ताल कर्मियों के मांगे पूरी नहीं की गई तो वो दिन दूर नही जब आपका अपना स्मार्ट सिटी बनेगा स्मार्ट कचरा सिटी। बिहारशरीफ शहर के विभिन्न मोहल्लों की कचरानुमा तस्वीर से प्रतीत होता है की 2 से 4 दिन अगर और हड़ताल रहा तो ये गंदगी सिर्फ शहर को गंदा ही नही करेगी बल्कि इसके विशेले महक से और कचरे के ऊपर फैलने वाले कीड़े, बैक्टीरिया हवाओ में घुल के हमारे शरीर तक पहुंचेगा और फिर कई तरह के बीमारियों से ग्रसित होगा आपका बिहारशरीफ।

एक तस्वीर में आप साफ़ तौर पर देख रहे हैं बिहारशरीफ के अधिकारी भी कचरे में रह सकते है लेकिन शहर साफ नहीं करवा सकते है जी हैं तस्वीर है उप विकास आयुक्त वैभव श्रीवास्तव के आवास के समीप का जहां कचरों का अंबार है।

इसी पास में नालंदा हेल्थ क्लब भी जहां रोजाना शाम को जिलाधिकारी, अनुमंडल पदाधिकारी, उप विकास आयुक्त और अन्य अधिकारी आते है सबकी नजर इन कचरो पर जा रही है लेकिन लगता हैं कि जिले के माननीय अधिकारियों ने आंखें बंद कर रखा है।

वार्ड नंबर 23 की हालत

1 thought on “सफाई कर्मी के हड़ताल का प्रभाव : बिहारशरीफ बना स्मार्ट कचरा सिटी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ESC