ESC

बिहारशरीफ : मनचलों लडको के ब्लैकमेलिंग से परेशान हो कर छात्रा ने किया आत्महत्या

बिहारशरीफ में एक छात्रा ने जहर खाकर खुदकुशी कर ली है । आत्महत्या से पहले छात्रा ने एक सुसाइड नोट छोड़ा है । जिसमें मौत के लिए दो लड़कों को जिम्मेदार ठहराया । दोनों लड़कों पर लड़की को परेशान करने का आरोप है । नाबालिग लड़की ने सुसाइड नोट में इसके बारे में लिखा है ।

सोशल मीडिया से हुई थी दोस्ती

बताया जा रहा है सोशल मीडिया के जरिए छात्रा की दोस्ती दो लड़कों से हुई थी। सोशल मीडिया साइट इंस्टाग्राम पर दोनों मे दोस्ती हुई। दोनों लड़के बिहारशरीफ में एक लॉज रहते हैं। दोनों ने पहले लड़की से दोस्ती की।

दोस्ती के नाम पर धोखा

बताया जा रहा है कि लड़की के पिता इलाज करवाने के लिए पटना गए। करीब एक महीना तक पटना में इलाज करवाया। इस दौरान दोनों लड़के लड़की के करीब आए गए। इसी दौरान अश्लील तस्वीरें खींच ली।

ब्लैकमेल का आरोप

जैसे ही छात्रा को इस बात की जानकारी मिली की । उसने दोनों से बातचीत बंद कर दिया। ये बात दोनों लड़के को नागवार गुजरी और लड़की को ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया। दोनों लड़के उसे परेशान करने लगे। अश्लील तस्वीर वायरल करने की धमकी देते थे। जिससे परेशान होकर लड़की ने सुसाइड कर लिया ।

5 लाख का डिमांड

लड़की के पिता ने दोनों लड़के उसे ब्लैकमेल कर रहे थे। लड़कों ने 5 लाख रुपए की डिमांड की थी नहीं देने पर तस्वीर वायरल करने की धमकी देता था। विरोध करने पर दोनों लड़कों ने घर घुसकर मारपीट भी की । दोनों ने कहा कि बर्बाद कर दूंगा और ऐसा कहकर फरार हो गए। इसके बाद लड़की ने खुदकुशी कर ली ।
दोनों लड़कों ने जब मारपीट और धमकी दी । उसके बाद लड़की ने अपने घर पर ही जहर पी लिया। लड़की के पिता ने कहा कि नाराज होकर कमरा अंदर से बंद कर लिया। घरवाले को थोड़ी भी आशंका नहीं थी कि उनकी लाडो कुछ ऐसा करेगी । लेकिन कुछ देर बाद ही वो चिल्लाने लगी । वो कहने लगी पापा मुझे बचा लो…पापा मुझे बचा लो..
घरवालों ने जैसे तैसे कमरे का दरवाजा तोड़ा तो देखा कि वो जहर पी चुकी थी। उसे आनन फानन में अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी मौत हो गई

सुसाइड नोट में क्या है

छात्रा के रूम से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है । जिसमें दोनों लड़कों के नाम लिखे हैं। सुसाइड नोट में लिखा है कि ये लोग फोटो से मुझे ब्लैकमेल कर रहे हैं। रेप करने की धमकी दे रहे हैं। मेरे परिवार की बदनामी हो रही है। उसने पिता और मां के साथ भी मारपीट की। उसे सजा-ए-मौत सुनाइएगा।

हिरासत में दोनों युवक

सुसाइड नोट में छात्रा ने जिस दोनों युवकों का नाम लिया था। पुलिस ने दोनों छात्रों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है । दोनों आरोपी नाबालिग हैं ऐसे में उसकी पहचान को नहीं बता सकते हैं ।

सोचिए जरा

अब वक्त आ गया है कि जब हमें जागना होगा। अपने बच्चों की करतूतों पर नजर रखना होगा। ताकि वो इस तरह की शिकार ना हो और ना ही कोई उसका इस्तेमाल कर सके । ऐसे में जरूरी है कि बच्चों के साथ संवाद जरूर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ESC