ESC

रोहतास : परसिया में जिले का पहला अपशिष्ट प्रबंधन इकाई केंद्र बनकर हुआ तैयार

नासरीगंज(रोहतास):– स्वच्छ भारत मिशन के तहत अब जिले की ग्राम पंचायतों में ही गीला और सूखे कूड़े का निस्तारण होगा।इसके तहत प्रखंड के परसिया पंचायत के परसिया गांव में जिले का पहला अपशिष्ट प्रबंधन इकाई केंद्र का निर्माण लगभग छः लाख दस हजार रुपए की लागत से किया गया है जहां ग्राम पंचायत से एकत्र कूड़े का निस्तारण किया जाएगा।जिससे जैविक खाद्य का निर्माण होगा।इस अपशिष्ट प्रबंधन इकाई केंद्र में पंचायत के सभी चौदहो वार्डो के लगभग 1500 घरों के गिला व सुखा कचड़ा एकत्रित होगा।जहा पर जैविक खाद्य भी बनाया जायेगा।ग्रामीणों ने कहा कि अपशिष्ट प्रबंधन इकाई केंद्र बनने से पंचायत के गांव में परिवर्तन तो बहुत आया है।पहले लोग कचरा रोड पर फेंकते थे अब गाड़ी का इंतजार करते हैं कूड़ा फेंकने के लिए।जिससे गांव की सड़के वी गलियां साफ सुथरा दिखाई देने लगी।जिससे हमारे बच्चों को बीमारी का खतरा भी कम हो जायेगा।मुखिया अनिता देवी ने कहा कि अपशिष्ट प्रबंधन इकाई केंद्र बनने से पँचायत शहरों की श्रेणी में स्वच्छ और सुन्दर दिखेगा।पँचायत की जनता से अपील करती हूं कि आपसभी लोग कूड़े कचड़े को जहां तहां न फेके,सफाई कर्मी जब आये तो उन्हें कचड़ा दे।तभी स्वच्छ व सुंदर पँचायत,गाँव का निर्माण होगा।प्रखण्ड समन्वयक चेतन आनंद ने कहा कि सरकार की यह योजना बहुत अच्छी हैं।ठोस अपशिष्ट प्रबंधन की व्यवस्था से पँचायत साफ सुथरा रहेगा और वातावरण प्रदूषण मुक्त रहेगा।जिससे लोगो मे बीमारियों का खतरा भी कम हो जाएगा।स्वछता से मानसिक विकास होता हैं।जिस तरह से हमलोग अपने शरीर को स्वच्छ रखते हैं उसी तरह हमलोगों को वातावरण को भी स्वच्छ रखना चाहिए।बीडीओ मोहम्मद जफर इमाम ने कहा कि सभी लोग अपने पँचायत को स्वच्छ रखने में अपना बहुमूल्य योगदान दें।सूखा एवं गिला कचड़ा को एकत्र करने के लिए आपको हरि व नीली बाल्टी दी गई है,उसमें कचड़े को अलग अलग करें और सुबह सुबह विसिल बजाते स्वच्छता कर्मी स्वच्छता वाहन लेकर आयेंगें उसे आप दोनों बाल्टी का कचड़ा दें जिसे उक्त कर्मी अपशिष्ट प्रबंधन इकाई केंद्र में जमा करेंगे।जहां पर जैविक खाद्य का निर्माण भी होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ESC