ESC

नवादा:-18 वर्षीय युवक की हत्या कर शव को बधार मे फेका

गोविंदपुर, नवादा:-गोविंदपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम बिशुनपुर के रजवाड़ी टोला के खेत में गुरुवार के अहले सुबह को मिले एक शव से गांव में कोहराम मच गया जिसे देखने के लिए सैकड़ों की संख्या में लोग इकट्ठा हो गए शव की पहचान गांव के ही संजय राजबंशी के इकलौते 18 वर्षीय पुत्र रौशन कुमार के रूप में हुई है जो रात से ही घर से लापता था ग्रामीण एवं परिजन के सहयोग से उसे खेत से बाहर निकाल कर घर ले जाया गया और इसकी सूचना पुलिस को दी गई सूचना प्राप्त होते ही थाना अध्यक्ष श्याम कुमार पांडे एएसआई सिकंदर सिंह दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लेते हुए कागजी कार्रवाई करने के बाद शव का पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल नवादा भेज दिया गया। परिजनों ने इसका विरोध किया और घर से लगभग 400 मीटर की दूरी पर शव को लाकर गोविंदपुर फतेहपुर मुख्य मार्ग विशुनपुर चौक पर रखकर सड़क को जाम कर दिया और एसपी को बुलाने की और हत्यारे की गिरफ्तारी और मुआवजे की मांग पर अड़ गए स्थल पर मौजूद थाना अध्यक्ष श्याम कुमार पांडे स्थानीय मुखिया सुनील कुमार ज़िला परिषद अध्यक्षा पति कुणाल कुमार पूर्व प्रमुख प्रतिनिधि उमेश यादव पंचायत समिति सदस्य रामचंद्र प्रसाद एवं सरपंच के द्वारा शव को पोस्टमार्टम कराने एवं सड़क जाम से निजात दिलाने के लिए के लिए काफी प्रयास किया परंतु परिजन अपनी मांग की बात को लेकर अड़े रहे लगभग ढाई घंटे के बाद प्रखंड विकास पदाधिकारी नीरज कुमार राय ने परिवारिक लाभ के तहत मृतक के परिजनों को 20 हजार रुपए नगद एवं मुखिया सुनील कुमार के तरफ से कबीर अंत्येष्टि के तहत 3 हजार रुपया देकर आर्थिक मदद पहुंचाई एवं बीडीओ के द्वारा मौके पर ही लिखित रूप से एससी एसटी के तहत मृतक के एक परिजनों को सरकारी नौकरी देने का आश्वासन व थाना अध्यक्ष के द्वारा स्वयं इस मामले को देखने और जल्द ही मौत का खुलासा कर दोषी को गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया तब जाकर मृतक के परिजनों के द्वारा शव को पोस्टमार्टम कराने दिया गया और जाम को हटाया गया इधर घटना की जानकारी प्राप्त होते ही मृतक के परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है वह अपने पिता का मात्र एक ही पुत्र था घटना के समय उसके माता-पिता घर पर मौजूद नहीं थे पिता दिल्ली में तो माता झारखंड के अमतोरो में घटना की जानकारी मिलते ही उसकी मां मौके पर पहुंच गई मृतक के दादा चंद्रिका राजवंशी चचेरा भाई उपेंद्र राजवंशी व उसकी मौसी ने बताई की रौशन कुमार मजदूरी का काम किया करता था जो बुधवार को गांव में ही मकान ढलाई के कार्य में मौजूद था वह संध्या 7:00 बजे से ही घर से गायब था जिसकी काफी खोजबीन किया गया परंतु उसका कुछ भी अता पता नहीं चल पाया सुबह में अचानक उसकी लाश मिली, उसे हत्या कर शव को बधार मे फेका गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ESC