ESC

रोहतास : सिंचाई विभाग के जमीन पर बना मड़ईनुमा बन्द पड़ा होटल हटाने पर ग्रामीणों ने किया विरोध।।

नासरीगंज(रोहतास):- काराकाट प्रखंड के सिकरिया पंचायत के बसडीहां पुल के समीप सिंचाई विभाग की जमीन पर बना मड़इनुमा होटल को जब अधिकारी हटाने की नोटिस भेजे तो इसको लेकर ग्रामीणों ने जमकर विरोध किया।काराकाट अंचल कार्यालय द्वारा नोटिस दिया गया कि होटल को हटा लिया जाये वरना इसे तोड़ा जाएगा।इस पर ग्रामीणों ने जमकर विरोध किया।ग्रामीणों का कहना था कि होटल लगभग दो वर्षों से बंद पड़ा हुआ है इसे यात्री सेड के रूप में लोग इस्तेमाल करते हैं। छात्र-छात्राएं अपने निजी कार्य के लिए इस्तेमाल करते हैं।साईकिल खड़ा कर के स्कूल,कोचिंग और कॉलेज चले जाते हैं।बाहर से जब रात में रात्रि लोग बस से उतरते है तो सुरक्षित यहां ठहरते है।यहां होटल का संचालन नहीं होता है तो आखिर परेशानी किस बात की है।ग्रामीण शत्रुघ्न पासवान, निखिल कुमार, रामअवतार, पासवान मोहन, पासवान संजय, हीरालाल पासवान ने बताया कि होटल हटाने से असामाजिक तत्वों का यहां जमावड़ा लगेगा।शराब माफिया से लेकर अपराधियों का सेफ जोन बन जाएगा।शराब धंधेबाजों , अपराधियों का यहां होटल होने से परेशानी होती है।बताया गया कि अंचल कार्यालय द्वारा अतिक्रमण हटाने की नोटिश जारी की गई है  लेकिन सिचाई विभाग को इस अतिक्रमित जमीन पर कुछ कार्य नहीं होना है तो फिर क्यों मड़ईनुमा होटल को हटाने पर आमादा है।ये किसी की निजी कार्य यहां जब नहीं होता है जन सेवा के लिए मड़ईनुमा होटल है तो विभाग को इतनी बेचैनी क्यों है।जब सिचाई विभाग को जरूरत पड़ेगी तो मड़ईनुमा होटल को हटा लिया जाएगा।इससे साफ जाहिर होता है कि मड़ईनुमा होटल हटा कर विभाग अपराधियों,असमाजिक तत्वों,शराब धंधेबाजों को जमावड़ा लगाने में भरपूर मदद करने के प्रयास में है।  काराकाट सीओ अमरेश कुमार से इसकी जानकारी ली गई तो बताया गया कि सिंचाई विभाग द्वारा निर्देश जारी हुआ है कि सिंचाई विभाग की जमीन को अतिक्रमण कर होटल बनाया गया है।अतिक्रमण हटाया जाये।अगले आदेश के बाद अतिक्रमित जमीन को अतिक्रमण मुक्त किया जाएगा।कई नोटिस भेजी जा चुकी हैं लेकिन अतिक्रमण नही हटाया गया हैं जल्द से जल्द अतिक्रमण हटाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ESC