ESC

आयुष्मान भारत कार्ड के कारण बची जावेद अंसारी की जान

आयुष्मान भारत दिवस

आयुष्मान भारत कार्ड के कारण बची जावेद अंसारी की जान

-जन-जागरूकता के साथ बन रहा है आयुष्मान कार्ड

  • कार्ड बनने पर मिलेगा 5 लाख रुपये तक के इलाज की सुविधा 

मोतिहारी, 23 सितंबर

आयुष्मान भारत दिवस के अवसर पर प्रचार रथ द्वारा जिले में जन- जागरूकता एवं प्रचार-प्रसार की विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जा रहा है। जिले के पात्र लाभार्थियों का आयुष्मान कार्ड बनाया जा रहा है। आयुष्मान कार्ड का लाभ शहर के वार्ड नं 16 के मो. अजमुल्लाह अंसारी के 38 वर्षीय पुत्र मो. जावेद अंसारी को मिला। मो. जावेद अंसारी ने बताया कि आयुष्मान भारत कार्ड के कारण ही मेरी जान बच पाई। 
उन्होंने बताया कि मैं वाहन चालक का कार्य करता हूँ। आयुष्मान भारत कार्ड नहीं बना रहता तो मेरा जान बच पाना मुश्किल था। मेरे इलाज में लाखों का खर्च था। उन्होंने बताया कि अप्रैल महीने में अचानक पेट में दर्द होने पर मैंने जब चिकित्सक को दिखाया तो उन्होंने एपेंडिक्स होना बताया। तब मैंने इलाज में कम खर्च होने के लिए ग्रामीण क्षेत्र के चिकित्सक से ऑपरेशन कराया। इलाज के दौरान उसने एपेंडिक्स के साथ ही मेरा आँत भी काट दिया, जिसके कारण मल लीकेज की समस्या हो गई। तब प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती हुआ। वहां इलाज कराने में काफी ख़र्च था। मैं और मेरा परिवार इलाज कराने में सक्षम नहीं था। ऐसे में मेरे मित्र ने बताया कि आयुष्मान कार्ड से इलाज की सुविधा मिलती है। तब सदर अस्पताल स्थित आयुष्मान भारत केंद्र आकर इसके डीसी सौरभ कुमार से मिला।  तब उन्होंने कार्ड व इलाज के बारे में जानकारी दी। उसके बाद रहमानिया मेडिकल सेंटर में निः शुल्क इलाज किया गया। यहाँ 14 दिनों तक मेरा इलाज, दवा, भोजन, बेड, सभी की सुविधाएं मुफ्त में उपलब्ध कराई गई। उन्होंने बताया कि अब इलाज के बाद पूरी तरह स्वस्थ हैं। अपना कार्य भी कर पा रहे हैं।

सदर अस्पताल में हो रहा है निबंधन-

आयुष्मान भारत के डीसी सौरभ कुमार ने बताया कि सदर अस्पताल सहित जिले के सभी प्रखंडो में आयुष्मान भारत कार्ड हेतु निबंधन हो रहा है। उन्होंने लोगों से अपील की कि 5 लाख रुपये तक की इलाज की सुविधा इस कार्ड के जरिये मिलती है।

कौन बनवा सकता है आयुष्मान कार्ड-

सौरभ कुमार ने बताया वैसे भारतीय नागरिक आयुष्मान भारत कार्ड प्राप्त कर सकते हैं। उनके पास पारिवारिक समग्र आईडी के साथ एक पहचान पत्र (आधार कार्ड, पेन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी, सरकारी पहचान पत्र) ले जाएं। कॉमन सर्विस सेंटर, लोक सेवा केंद्र, यूटीआई-आईटीएसएल केंद्र पर जाकर पात्रता जांच कराएं और आयुष्मान कार्ड बनवाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ESC