सजग प्रहरी पत्रिका विमोचन का कार्यक्रम संपन्न

तेघरा ( बेगूसराय) 25 नवंबर बुधवार को पिढौली पंचायत अंतर्गत झारखंड के सेवानिवृत्त डीएसपी सुनील कुमार के आवासीय परिसर में त्रैमासिक पत्रिका सजग प्रहरी का विमोचन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता चांद मुसाफिर ने किया। मौके पर मैथिली के लोक गायक सच्चिदानंद पाठक ने कहा कि आज के दौर में पत्रिका का प्रकाशन का कार्य बहुत कठिन है। ऐसे में सजग प्रहरी का प्रकाशन छोटे स्थानों से हो रहा है यह सराहनीय है। भाभा टेक्नोलॉजी सेंटर के पूर्व साइंटिस्ट आरएन सिंह ने कहा कि पिछले कई दशकों से शिक्षा व्यवस्था में गिरावट आ रही है। ऐसे में साहित्यकारों की जिम्मेदारी और बढ़ जाती है।पत्रिका का विमोचन करते हुए साहित्यकारों ने कहां की वर्तमान समय में पढने पढाने की परंपरा समाप्त हो रही है। ऐसे में क्षेत्रीय पत्र पत्रिका का प्रकाशन समाज को सही दिशा और आईना दिखाने के बराबर होगा है। वही साहित्यकार रामानुज चौधरी ने अपने संबोधन में कहा कि इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के बाद आज मोबाइल के युग में पढने -पढाने की चलन समाप्त हो रहा हैं। यह गंभीर चिंता की विषय है। मौके पर कवि गोष्ठी का भी आयोजन किया गया। कवि गिरधारी लाल शर्मा ने चुनाव पर टिप्पणी करते हुए कविता पाठ किया। शिक्षिका स्मिता श्री ने प्रकृति के प्रति अपनी भावना को कविता के माध्यम से प्रस्तुत की । महेंद्र चौधरी सरदार, रामानुज चौधरी, शैलेंद्र शर्मा त्यागी सहित कई कवियों ने कविता पाठ किया। इससे पहले पत्रिका के संपादक शशिभूषण भारद्वाज ने पत्रिका की विशेषता पर विस्तार से प्रकाश डाला और प्रकाशन में होने वाली कठिनाइयों को बताया। मौके पर शंभू कुमार सिंह, मुखिया प्रणव भारती, सच्चिदानंद सिंह, अमिय कश्यप, पूर्व डीएसपी सुनील कुमार, चांद मुसाफिर सहित कई लोगों ने अपनी पत्रिका के विशेषता पर गंभीरता पूर्वक प्रकाश डाला। कार्यक्रम का संचालन पूर्व सरपंच सह सिने स्टार महंत उर्फ राकेश कुमार ने किया। मौके पर उपस्थित अतिथियों एवं साहित्यकारों को अंग वस्त्र से सम्मानित किया गया।

अशोक कुमार ठाकुर की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *