वीरपुर पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी के साथ कर्मचारी,शिक्षक एवं बच्चे शराब न पीने की ली शपथ

वीरपुर (बेगुसराय) वीरपुर प्रखंड व थाना क्षेत्र के विभिन्न सरकारी व गैरसरकारी शिक्षण संस्थान एवं प्रखंड एवं अंचल कार्यालय में 26 नवंबर को फिर से शराब नहीं पीने की शपथ सरकार के मुलाजिमों को दिलाई गयी । स्कूली बच्चों के द्वारा प्रभातफेरी निकालकर लोगों को जागरूक किया वहीं प्रखंड व अंचल कार्यालय में भी वीरपुर प्रखंड विकास पदाधिकारी अरुण कुमार निराला के नेतृत्व में सभी कर्मी कसमें खाई है। जिसमें अंचल के राजस्व अधिकारी शैलेंद्र कुमार के साथ प्रखंड व अंचल के कर्मी एवं वीरपुर के सामाजिक कार्यकर्ता भी मौजूद थे।इसी कड़ी में वीरपुर थाना में थानाध्यक्ष समरेंद्र कुमार के नेतृत्व में भी पुलिस कर्मी एवं सरकारी मुलाजिम ने शराब न पीने एवं नशामुक्त बिहार बनाने की शपथ खाई ।मौके पर महिला सबइंस्पेक्टर अंजली कुमारी ,अवर्निरीक्षक सुबोध तिवारी,महेश प्रसाद सिंह, रंजन कुमार ठाकुर, समेत पुलिस कर्मी व ग्रामीण पुलिस मौजूद थे।वैसे इससे पहले भी बिहार के सरकारी मुलाजिम शराब नहीं पीने की कई बार कसमें खा चुके हैं। मगर ‘बोतल’ देखते ही इनमें कुछ का जी मचलने लगता है और कसमें टूट जाती है। मगर ‘सरकार’ छोड़ने के मूड में नहीं हैं। फिर से वादा पूरा करने की शपथ दिलावाया है।आम जनता कह रही है कि इस बार की कसम में कितने दिन तक सरकारी कर्मी अपना फर्ज निभा पाते हैं ये देखना बाकी है।वहीं एक तरफ बिहार में शराबबंदी को फेल बताया जा रहा है। कानून को वापस को लेने की मांग हो रही है। इसमें पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव से लेकर बीजेपी के विधायक तक शामिल हैं। मगर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ‘अग्निपथ’ से पीछे हटने को तैयार नहीं है। नीतीश कुमार का मानना है कि कानून तो अपना काम करेगा, मगर उससे ज्यादा जरूरी आमलोगों की भागीदारी और जागरूकता है।

संतोष चौरसिया की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *