डायवर्सन के कारण 500 बीघा कृषि योग्य भूमि में जलजमाव : किसान परेशान, नहीं होगा फसल

Darbhanga : कुशेश्वर स्थान पूर्वी प्रखण्ड के केवटगामा मौजा में लगभग 500 बीघा कृषि योग्य भूमि वर्तमान में भी जलमग्न है | सलमगढ़ शिव मंदिर केवटगामा के निकट पूल बनाने का कार्य पिछले वर्ष से हीं चल रहा है | पूल बनाने के क्रम में बरसाती नाले पर आवागमन के लिए डायवर्सन बनाया गया | इस डायवर्सन में पानी निकासी हेतु कोई व्यवस्था नहीं की गई | जिसके कारण बाढ़ एवं बारिश के कारण लगभग किसानों का 500 बीघा कृषि योग्य भूमि अभी भी जलमग्न है | बाढ़ एवं बारिश के कारण किसानों को धान की फसल भी नहीं हुई और जब तक पानी निकासी नहीं हो जाती तब तक किसान रबी की फसल बुआई नहीं कर पायेंगें |

इससे सैकड़ों किसानों के समक्ष भूखमरी की स्थिति पैदा हो जायेगी | जहाँ पूल निर्माणाधीन है वहां से | दर्जनों किसान चिंतित हैं की धान की फसल तो हुई नहीं अब रबी फसल की बुआई भी नहीं हो पाएगी। दर्जनों किसान ने स्थानीय प्रशासन को इस समस्या की और ध्यान आकृष्ट भी कराया था | यहाँ जो जलजमाव है उस पानी से दुर्गन्ध आनी शुरू हो गई है | समय रहते जल निकासी की व्यवस्था नहीं की गई तो महामारी भी फ़ैल सकती है | जब पत्रकार ने विभागीय अभियंता रणधीर बात किए तो अभियंता ने कहा जल्द से जल्द जलजमाव से निजात दिलवाने का आश्वासन दिए । मौके पर स्थानीय किसान बद्री यादव, नाथो यादब, कोकाय यादव, अनिल मुखिया,महेश्वर यादव इत्यादि उपस्थित रहे.

रिपोर्ट : कुंदन प्रसाद/दरभंगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *