सारण : मुबारकपुर पंचायत के ससुर को अपराधियों ने गोली मारा, घायल

नितेश कुमार सिंह

सारण : मुबारकपुर पंचायत के ससुर को अपराधियों ने गोली मारा, घायल



मांझी। सोमवार की रात बाइक सवार सशस्त्र अपराध कर्मियों ने मांझी थाना क्षेत्र के मुबारकपुर पंचायत की नव निर्वाचित मुखिया आरती देवी के ससुर मथुरा यादव 60 वर्ष को गोली मारकर गम्भीर रूप से घायल कर दिया। बाद में आनन फानन में परिजनों ने उन्हें एकमा स्थित एक निजी क्लीनिक में एडमिट कराया। हालांकि श्री यादव की चिंताजनक स्थिति को देखते हुए चिकित्सकों ने उन्हें पहले छपरा तथा फिर पटना रेफर कर दिया। परिजनों ने बताया कि घायल मथुरा यादव नरवन सड़क पुल के समीप स्थित अपने मुर्गा फार्म के पास स्थित झोंपड़ी में सो रहे थे तभी अपराध कर्मियों ने उनको गोली मार दी तथा फरार हो गए। गोली उनके पेट में लगी है। उधर घटना को अंजाम देने के बाद कथित रूप से बाइक पर सवार होकर भाग रहे अपराध कर्मियों का पुलिस पीछा करने लगी। इसी बीच मांझी तथा रिविलगंज सीमा क्षेत्र के कौरुधौरू के समीप अपराध कर्मियों को पीछा करता देख धनी छपरा निवासी प्रकाश सिंह ने उन्हें रोकना चाहा तब तक अपराधकर्मियों ने उनके ऊपर भी गोली चला दी जो प्रकाश सिंह की पीठ में लगी और वह गिर पड़े। जिनका इलाज सदर अस्पताल में कराने के बाद छपरा से पटना रेफर कर दिया गया। पुलिस द्वारा मुख्यालय को सूचना दिए जाने के बाद रिविलगंज एवम मांझी थाना के अलावा एसआईटी की टीम द्वारा पीछा किया गया। लेकिन अंधेरा एवं कुहासा का लाभ उठाकर अपराधकर्मी भागने में सफल रहे। हालांकि सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पुलिस एवं अपराधियों के बीच रिविलगंज के नवादा चंवर में डेढ़ दर्जन राउंड गोली बारी की बात बताई जा रही है। उधर मुखिया पति विजय यादव ने बताया कि अपराध कर्मी उनकी ही हत्या करने के उद्देश्य से आए थे लेकिन मुझको नहीं पाकर पिताजी को गोली मार दिया। घटना की सूचना पाकर एकमा अस्पताल पहुंचे विधायक डॉ सत्येंद्र यादव एवं श्रीकांत यादव ने हालात की जानकारी ली। विधायक द्वय ने कहा कि इस सरकार में अपराधी बेलगाम हो गए हैं और प्रशासन निरंकुश हो चुका है। जिस कारण जिले में अपराध का ग्राफ दिन-प्रतिदिन बढ़ रहा है। अपराध कर्मी अब जनप्रतिनिधि को निशाना बना रहे हैं। यह लोकतंत्र के लिए शुभ संकेत नही है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *