कबीर ज्ञान मंच के तत्वाधान में एक दिवसीय कबीर सत्संग का आयोजन।

तेघरा (बेगूसराय) उत्तर तेघरा के पकठौल पंचायत अंतर्गत दिनेश तांती के आवासीय परिसर में कबीर ज्ञान गोष्टी मंच के द्वारा एक दिवसीय सतगुरु संत शिरोमणि कबीर सत्संग का आयोजन महंत रामदास महाराज महादेव मंत्र के मठाधीश की अगुवाई में संपन्न हुई। अपने प्रवचन में महाराज जी ने कहा कि कबीर साहेब संत सम्राट ही नहीं बल्कि मानवीय मूल्यों की रक्षार्थ तथा सामाजिक एकता के प्रतीक जो विषमता व कुरीतियों के खिलाफ अपनी वाणी से जीवों को चेताने का काम किया। जगदीश प्रसाद दास बैराग ने अपनी प्रवचन एवं संबोधन में उपस्थित श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए मनुष्य जीवन परमिशन के संबंध में विस्तार से चर्चा करते हुए कहा कि कबीर मार्गी पंचशील के सिद्धांत पर चलकर ही मनुष्य विश्व कल्याण के भागीदार हो सकता है। प्रवचन वाचक उपेंद्र प्रसाद मेहता ने अपनी मधुर वाणी से लोगों को मोहित करते हुए कहा कि जीव हत्या, चोरी ,पर स्त्री गमन, झूठ व किसी भी प्रकार के नशा का उपयोग करना मनुष्यों व समाज को पतन की ओर ले जाता है इसलिए इन तमाम दुर्गुणों से मनुष्य को बचते हुए मानव सेवा के माध्यम से विश्व कल्याण की रास्ते पर अग्रसर हो कर आगे बढ़ने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि कबीर शिरोमणि मानवतावादी, समतामूलक सम्राट थे उन्होंने सामाजिक अन्याय व विषमता के खिलाफ अनवरत अपनी वाणी से वैचारिक क्रांति की ओर मनुष्य को जगाते रहे। उन्होंने कहा कि बिना सतगुरु जीवन निष्फल है सच्ची और आदर्श ज्ञान की प्राप्ति के लिए गुरु ही एक मार्ग है। प्रवचन में बैराग राम अवतार, जगदर से शंकर दास, किरतौल शंकर दास, रामचंद्र दास, सुखदेव साहेब, रामाश्रय दास के अलावे भारी संख्या में प्रवचन को सुनने के लिए कई गांव से शिविर में श्रद्धालु उपस्थित हुए।

अशोक कुमार ठाकुर की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *