खनन, मद्य-निषेध,भूमि विवाद,मंदिर चहारदीवारी,कब्रिस्तान घेराबंदी, शस्त्र, नीलाम, चरित्र प्रमाण पत्र संबंधी विषयों पर की गई समीक्षा।

Nalanda : आज दिनांक 17/12/2021 को जिला पदाधिकारी नालंदा श्री योगेन्द्र सिंह द्वारा हरदेव भवन सभागार में खनन, मद्य-निषेध,भूमि विवाद,मंदिर चहारदीवारी,कब्रिस्तान घेराबंदी, शस्त्र, नीलाम, चरित्र प्रमाण पत्र संबंधी विषयों पर समीक्षा की गई।
जिला पदाधिकारी ने खनन विकास पदाधिकारी को छापेमारी कि संख्या बढ़ाने तथा प्राथमिकी दर्ज करने में तेजी लाने का निर्देश दिया।जिला पदाधिकारी ने बताया कि अभी सभी विभागों में निर्माण कार्य जोरों पर चल रहे हैं इसलिए रॉयल्टी की वसूली हेतु इससे संबंधित विभागों के पदाधिकारियों के साथ बैठक करें।
कब्रिस्तान घेराबंदी के समीक्षा के क्रम में पाया गया कि अभी कुल 5 मामले भूमि विवाद या सीमांकन के कारण लंबित है।इनके शीघ्र निष्पादन का आदेश दिया गया।इसी तरह मंदिर चाहरदीवारी निर्माण में लंबित मामलों को भी त्वरित गति से निष्पादित करने के आदेश दिए गए।राजस्व शाखा की समीक्षा में पाया गया कि जिला स्तर पर कुल 31 मामले लंबित हैं। थानों के स्तर पर 147 मामले तथा अनुमंडल स्तर पर 61मामले लंबित हैं। थाना तथा अंचल स्तर पर कुल मिलाकर 171 मामले लंबित पाए गए। इसे निष्पादित करते हुए पोर्टल पर अपलोड करने का निर्देश दिया गया।शस्त्र शाखा की समीक्षा में पाया गया कि 257 शस्त्र अनुज्ञप्ति रद्द किए गए।शस्त्र के भौतिक सत्यापनोपरांत पुलिस अधीक्षक द्वारा 426 शस्त्र अनुज्ञप्ति रद्द करने के प्रस्ताव दिए गए तथा इस हेतु 426 नोटिस दिए गए जिसमें 169 का तामिला प्रतिवेदन अभी अप्राप्त है।अनुसूचित जाति/जनजाति अत्याचार निवारण मामलों के कुल 13 मामले लंबित पाए गए।जीविका की समीक्षा में जिला पदाधिकारी ने वैसे समूहों को जो पहले मद्य पान कारोबार में लगे थे और अब अनुदान के सहारे दूसरे व्यवसाय में लगे हैं की समीक्षा करने का भी आदेश दिया।नीरा उत्पादन,विपणन तथा इसके प्रशिक्षण पर भी जिला प्रबंधक,जीविका को निदेश दिया गया।मद्य निषेध के तहत दिनांक 01/04/2016 से अब तक कुल 946 वाहनों को जब्त किया गया है जिसमें 759 वाहनों को राज्यसात किया गया है। अब तक कुल 462 वाहनों की नीलामी की जा चुकी है।जिला पदाधिकारी ने नीलामी हेतु लंबित सभी वाहनों को शीघ्र नीलाम कराने के निदेश दिए।नीलामी से अब तक कुल 3.75 करोड़ रुपए की राशि वसूली जा सकी है।मद्य निषेध के तहत अब तक कुल 429 मकानों को अधिग्रहित किया गया है।जिला पदाधिकारी ने सभी अनुमंडल पदाधिकारी को निदेश दिया की इन सभी भवनों में सरकारी कार्यालय खुलवाएं।आज सामान्य शाखा द्वारा’प्रशासन गांव की ओर’ के बारे में बताया गया।बिहारशरीफ के बढ़ते प्रदूषण स्तर पर बिहार राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के पत्र के आलोक में यहां के प्रदूषण नियंत्रण पर चर्चा की गई।जिला पदाधिकारी ने निर्माण कार्य को तथा निर्माण सामग्री ले जाते हुए वाहनों को ढक कर ले जाने को सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया।सड़कों पर कचड़े जमाव को रोकने तथा कचड़े को जलाने से रोकने के भी निदेश दिए गए।नगर आयुक्त बिहारशरीफ श्री तरनजोत सिंह ने भी प्रदूषण कम करने के कई उपाय बताए जिस पर नगर निगम कार्य करेगी।उक्त बैठक में पुलिस अधीक्षक नालंदा श्री हरि प्रसाथ एस,अपर समाहर्ता नालंदा श्री नौशाद आलम,उप विकास आयुक्त नालंदा श्री वैभव श्रीवास्तव,जिला वन पदाधिकारी श्री निशामनी के सहित सभी अनुमंडल पदाधिकारी,अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी,अभी भूमि सुधार उप समाहर्ता तथा संबंधित विभागों के पदाधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *