डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जागृति मंच की एक दिवसीय बैठक संपन्न हुई।

3 जनवरी को सावित्रीबाई फुले जी का जन्म दिवस मनायी जाएगी। रामदेव चौधरी।

Nalanda : बिहारशरीफ नालंदा जिला के प्रखंड राजगीर में अम्बेडकर चौक के निकट डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जागृति मंच की एक दिवसीय बैठक संपन्न हुई जिसकी अध्यक्षता समाजसेवी मनोहर कुमार चौधरी ने की। बैठक में डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के विचारों पर तथा संगठन को मजबूत करने पर बल दिया जाय और बहुत ही जल्द सम्मेलन कर नए कमेटी की गठन पर एवं 3 जनवरी को सावित्रीबाई फुले के जन्म दिवस मनाने पर चर्चा की गई।

इस मौके पर वक्ताओं ने कहा की सावित्रीबाई फुले देश की प्रथम शिक्षिका के रूप में जाने जाती है। जिसने शिक्षा को आगे बढ़ाने में अहम भूमिका निभाई है।जब देश में स्त्रियों को शिक्षा से बंचित रखा गया था। ऐसे समय में सावित्रीबाई फूले ने संकल्प लिए की हम स्त्रियां को पढ़ाएंगे और संगठित कर शिक्षित बनाएगें। उनको इस काम के लिए आज दुनियां माता सावित्रीबाई फुले के नाम से जाने जाती है।अन्त में सर्व सहमत से बैठक में निर्णय लिया गया कि ३जनवरी को सावित्रीबाई फुले की जन्म दिवस मनाई जाएगी और संगठन को मजबूत करने पर विशेष चर्चा की गई। बैठक में भारतीय बौद्ध महासभा के जिला कार्यकारिणी अध्यक्ष सह फुटपाथ विक्रेता संघ के अध्यक्ष रामदेव चौधरी अधिवक्ता आशुतोष कुमार अशोक हिमांशु सुरेंद्र प्रसाद छोटेलाल गौतम डाक्टर इंग्लोश डॉ विनोदानंद शर्मा अरविंद चौधरी मनजीत प्रभाकर विनोद कुमार शिव विलास पासवान अजय कुमार पटेल अरविन्द कुमार आदि लोग उपस्थित थे। इस मौके पर उपस्थित सभी लोगों ने डॉक्टर भीमराव अम्बेडकर के सपनों को साकार करने एवं उनके बिचारों को जिंदा रखने तथा उनके द्वारा बनाए गए संविधान की रक्षा करने का संकल्प लिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *