अतिक्रमणकारियों ने सावंत कब्रिस्तान का पीलर उखाड़ा। गांव में तनाव ग्रामीण पहुंचे छौड़ाही ओपी।

BEGUSARAI : छौड़ाही ओपी क्षेत्र के सावंत गांव स्थित कब्रिस्तान की जमीन कुछ लोगों द्वारा अतिक्रमण कर लिए जाने के बाद रविवार की रात कब्रिस्तान के पिलर को उखाड़कर फेंक देने से ग्रामीणों में भारी तनाव व्याप्त हो गया है। दर्जनों ग्रामीण छौड़ाही ओपी पहुंच ओपी अध्यक्ष को आवेदन दे नामजद आरोपितों पर सख्त कार्रवाई कर माहौल सामान्य बनाने की गुहार लगाई है। पुर्व में भी शव को दफनाने में भारी दिक्कत को देखते हुए ग्रामीणों ने इस संदर्भ में अंचलाधिकारी छौड़ाही को आवेदन दे कब्रिस्तान को अतिक्रमण मुक्त कराने की गुहार लगाई थी। परंतु अंचल प्रशासन द्वारा कार्रवाई नहीं होने से पिलर उखाड़कर माहौल बिगाड़ने का प्रयास किया गया।
छौड़ाही ओपी पर मौजूद सावंत जामा मस्जिद ईदगाह कब्रिस्तान कमेटी के अध्यक्ष शहनवाज खां, सचिव तनवीर आलम, केशियर हाजी साहब, सदस्य अली अहमद मोहम्मद कलीम मोहम्मद जावेद समेत तमाम ग्रामीणों ने कहा है कि सावंत गांव के खाता संख्या 413 खेसरा संख्या 2154 कुल रकबा नौ कट्ठा चौदह धूर जमीन खतियान से कब्रिस्तान की जमीन है। इस जमीन पर सावंत निवासी अताउल हक, जियाउल हक, रियाजूल हक, इजहारुल हक, मोहम्मद मुस्तफा, मोहम्मद कलीम, अब्दुल समद, लाल मोहम्मद, अब्दुल अहद, आदि लोगों ने कब्रिस्तान की जमीन पर अवैध कब्जा कर रखा है।
आवेदन में ईदगाह कब्रिस्तान कमेटी के सदस्यों ने कहा है कि पूर्व में कई बार कमेटी एवं ग्रामीणों ने बैठक कर कब्रिस्तान से अवैध कब्जा हटाने का आग्रह उक्त लोगों से किया गया। जिस पर अतिक्रमण कारी लड़ाई झगड़ा मारपीट करने पर उतारू हो गए। ग्रामीणों की सहमति से कब्रिस्तान की जमीन की नापी कर निशान भी लगा दिया गया है। लेकिन अतिक्रमण कारी जमीन खाली नहीं करने को लेकर अड़ गए हैं। जिससे कब्रिस्तान को आबाद करने में अवरोध उत्पन्न हो रहा है। गांव में 5000 मुसलमानों की आबादी है जिसके लिए यही एकमात्र लिखित कब्रिस्तान है। कब्रिस्तान अतिक्रमित रहने के कारण किसी के मौत होने पर दफनाने में भारी अवरोध उत्पन्न हो जाता है।
रविवार की रात उक्त नामजद आरोपियों ने गाड़े गए सिमांकन पिलर को उखाड़ कर फेंक दिया। सोमवार की सुबह पिलर उखड़ा फेंका देख ग्रामीणों में काफी आक्रोश फैल गया। जिसकारण अभी थाना पहुंचकर हम सभी ग्रामीण पुलिस से कार्रवाई की गुहार लगा रहे हैं। थानाध्यक्ष ने कार्रवाई का भरोसा दिया है।
जामा मस्जिद सावंत ईदगाह वह कब्रिस्तान कमेटी के सदस्यों एवं ग्रामीणों ने आवेदन की प्रति माननीय राज्यपाल, मुख्यमंत्री, समाज कल्याण विभाग, जिला पदाधिकारी बेगूसराय एवं डीसीएलआर मंझौल को भेजते हुए कब्रिस्तान से अभिलंब अतिक्रमण हटवाने की गुहार लगाई गई है।
कहते हैं ओपी अध्यक्ष : छौराही ओपी अध्यक्ष राघवेंद्र कुमार का कहना है कि आवेदन में वर्णित तथ्यों की जांच कर विधि सम्मत कार्रवाई करने का भरोसा ईदगाह कमेटी के सदस्यों व ग्रामीणों को दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *