कालबेलिया राजस्थानी लोकगीत और नृत्य से झूम उठे दर्शक : RPS School Biharsharif में कालबेलिया राजस्थानी नृत्य संगीत का हुआ भव्य आयोजन।

Nalanda (BiharSharif) : आज बिहारशरीफ शहर स्थित आरपीएस ग्रुप ऑफ़ स्कूल के कचहरी रोड स्थित शाखा में जोधपुर राजस्थान से आए कलाकारों के द्वारा राजस्थानी नृत्य और संगीत कालबेलिया का शानदार कार्यक्रम किया गया।

इस कार्यक्रम की शुरुआत सबसे पहले केसरिया और निमोरा संगीत से हुआ उसके बाद सभी कलाकारों के बेहतरीन मनोरंजन से भरे इस कार्यक्रम में पुरा स्कूल झूम उठा।

ये कार्यक्रम जिले के दो स्कूलों में स्पीक मैक आर्गेनाइजेशन के सौजन्य से किया जा रहा है। आरपीएस ग्रुप स्कूल के बाद ये कार्यक्रम आज शाम जिले के सैनिक स्कूल मे किया जाएगा।

क्या है कालबेलिया राजस्थानी नृत्य

कालबेलिया नृत्य राजस्थान के प्रसिद्ध लोक नृत्यों में से एक है। यह नृत्य कालबेलिया, जो कि एक सपेरा जाति है, के द्वारा किया जाता है। कालबेलिया नृत्य में सिर्फ़ स्त्रियाँ ही भाग लेती हैं। राजस्थान की प्रसिद्ध लोक नर्तकी गुलाबो नें इस नृत्य को देश-विदेश में बहुत नाम दिलाया है। इस नृत्य में पुरुष सिर्फ़ ‘इकतारा’ या ‘तंदूरा’ लेकर महिला नर्तकी का साथ देते हैं।

कालबेलिया नृत्य राजस्थान का प्रसिद्ध लोक नृत्य है, जो सपेरा जाति द्वारा किया जाता है।इस नृत्य में गजब का लोच और गति है, जो दर्शकों को सम्मोहित कर देती है।यह नृत्य दो महिलाओं द्वारा किया जाता है। पुरुष केवल वाद्य बजाते हैं।कालबेलिया नृत्य करने वाली महिला बहुत घेरदार वाला काले रंग का घाघरा पहनती हैं, जिस पर कसीदा होता है।

काँच लगे होते हैं और इसी तरह का ओढ़ना और काँचली-कुर्ती होते हैं।नृत्यांगनाएँ साँप की तरह बल खाते हुए और फिरकनी की घूमते हुए प्रस्तुती देती हैं।इस नृत्य के दौरान नृत्यांगनाओं द्वारा आंखों की पलक से अंगूठी उठाना, मुँह से पैसे उठाना, उल्टी चकरी खाना आदि कई प्रकार की कलाबाजियाँ दिखाई जाती हैं।राजस्थानी लोक गीतों पर जब नर्तकियाँ फिरकनी कि तरह नाचती हैं तो देखने वाले के मुँह से वाह निकले बिना नहीं रहती।

कार्यकर्म में कौन कौन हुए शामिल

आयोजित इस कार्यक्रम में आरपीएस ग्रुप ऑफ़ स्कूल के तमाम शिक्षक, छात्र छात्रा, अभिभावक, आशा मैमोरियल स्कूल के निदेशक आशीष रंजन, वरिष्ठ पत्रकार दीपक विश्वकर्मा और तमाम मीडिया प्रभारी मौजुद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *