BREAKING NEWS
बिहार शरीफ में अहीर रेजिमेंट के गठन की मांग...        गुरुकुल विद्यापीठ में विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन : बच्चों ने दिखाया वैज्ञानिक सोच...        फ़िल्मी स्टाइल में बैंक लूट : एनकाउंटर के लिए बुलेट प्रूफ जैकेट डालते रह गए SP, लुटेरे हुए उड़न छू...        शॉर्ट सर्किट से लगी आग, पांच लाख की संपत्ति जलकर हुई राख...        81 करोड लोगों को मिलता रहेगा मुफ्त राशन : कांता कर्दम...        लकवा लाइलाज नहीं जानिए समय पर लक्षण पहचान कर कैसे बचा सकते है पीड़ित की जान...        पांच दिवसीय भारत स्काउट गाइड प्रशिक्षण हुआ सम्पन्न...        तीन दिवसीय राजगीर महोत्सव का आगाज : प्रभारी मंत्री विजय कुमार चौधरी ने किया उद्घाटन...        फरार अभियुक्त को पुलिस ने किया गिरफ्तार...        सांसद ने आदित्य अस्पताल का किया शुभारंभ : सर्जरी के अलावे गंभीर बीमारियों का मिलेगा उपचार...       
post-author

आशा संघ के बैनर तले 14 सुत्री मांगो को लेकर किया गया प्रदर्शन

Bihar 19-Jul-2023   9893
post

बिहारशरीफ : सदर अस्पताल परिसर में 14 सूत्री मांगों को लेकर बिहार राज्य आशा संघ और बिहार राज्य भैक्सिन कुरियर संघ के बैनर तले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और स्वास्थ्य मंत्री तेजस्वी यादव के खिलाफ नारे बाजी कर धरना प्रदर्शन किया। संघ के 14 सूत्री मांगों में सभी आशा आशा फैसिलेटर/ ममता का उम्र सीमा 18 से 65 वर्ष करने , नियुक्ती के समय जिसका उम्र 18-65 वर्ष है तो उसको स्थाई करने,विगत हड़ताल के क्रम में हुई सहमति के अकार्यान्वित बिंदुओ को तुरंत लागू किया करने,सहमति के संदर्भ में स्वीकृति मानसिक पारितोषिक शब्द को बदल कर मानदेय किया जाए तथा इसका बकाया सहित अद्यतन भुगतान किया जाए और इसमें काम के बैरियर को समाप्त किया जाए। आशाओं ममता को देय राशि के भुगतान में स्थानीय स्तरों पर व्याप्त कमीशनखोरी-भ्रष्टाचार भेदभाव पर सख्ती से रोक लगाई जाए।आशाओं /फैसिलेटरों/ममता/सफाईकर्मी पशु-चिकित्सा/टीकाकर्मी को सरकारी कर्मचारी का दर्जा दिया जाये और 25000 मासिक मानदेय दिया जाने,स्वास्थ्य केन्द्रों में भी निर्मित आशा भवनों को आशाओं की उपलब्ध कराया जाय और शेष बचे स्वास्थ्य केन्द्रों में भी आशा भवनों का अविलम्ब निर्माण किया जाय ।अश्विन पोर्टल से भुगतान में तय राशि-सीमा को समाप्त किया जाए और पूरी अर्जित राशि के भुगतान की व्यवस्था किया जाय ।अश्विन पोर्टल से ऑन लाईन करने में आशा से पैसा लेकर किया जाता है, इसपर रोक लगाया जाय । फैसिलिटरों को सिर्फ मांसिक यात्रा भत्ता नही बल्कि पूरे माह का मानदेय भुगतान किया जाए। फैसिलिटेरों आशाओं की स्कूटी की आपूर्ति की जाय। फैसिलिटेरो / ममता को पोशाक (उनी कोट सहित) और आशाओं को उनी कोट की आपूर्ति की जाय। हटाये गये आशा-आशा फैसिलिटर को सेवा पुनः बहाल किया जाये। जैसे जहानाबाद के मखदुमपुर प्रखंड में 15 आशा को पुनः सेवा बहाल किये जाने के अलावे कागजात जाँच के नाम पर जो आशा की छटनी की जा रही है उसको रोका जाए एवं कार्य में पुनः बहाल करने की मांग शामिल है।

post-author

Realated News!

Leave a Comment

Sidebar Banner
post-author