BREAKING NEWS
मुख्यमंत्री के गृह जिले में 'सात निश्चय' योजना अधूरी : 10 साल बाद भी नल जल से वंचित गांव...        कोसुक डंपिंग यार्ड से निकलने वाले जहरीले धुएं से ग्रामीण परेशान : ग्रामीणों की सेहत पर खतरा...        नालंदा में ग्रामीण विकास मंत्री के ही क्षेत्र में नही हुआ है सड़कों का विकास...        रामनवमी जुलूस और लोकसभा चुनाव प्रशासन की प्रतिबद्धता : शांतिपूर्ण और निष्पक्ष तरीके से होगा आयोजन...        रामलखन सिंह यादव महाविद्यालय के छात्रों ने लोकतंत्र को करीब से समझा : आखिर कैसे पढ़िए पूरी खबर...        रामनवमी शोभा यात्रा को स्थगित किए जाने को लेकर विहिप द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति है भ्रामक : जिला प्रशासन करेगी जांच...        क्षेत्र भ्रमण के दौरान जनता ने सांसद कौशलेंद्र कुमार को दिखाया सच का आईना...        वर्ग 5 एवं वर्ग 8 की वार्षिक परीक्षा समाप्ति के उपरांत शिक्षक व अभिभावक का बैठक आयोजन...        बिहारशरीफ में पंचाने नदी के किनारे युवक का शव मिलने से सनसनी...        है तैयार हम : नालंदा पुलिस द्वारा जिले से अपराधी व अपराध का सफाया अभियान जारी...       
post-author
post-author
post-author
post-author

जिला में निर्माणाधीन विभिन्न परियोजनाओं के तहत किये जा रहे भू-अर्जन कार्य को लेकर जिलाधिकारी ने की समीक्षा बैठक

Bihar 28-Feb-2023   10171
post

नालंदा: जिला में विभिन्न महत्वपूर्ण परियोजनाओं के लिए किए जा रहे भू-अर्जन को लेकर जिलाधिकारी  शशांक शुभंकर ने सोमवार संध्या में समीक्षा बैठक की।विभिन्न महत्वपूर्ण परियोजनाओं- हिलसा बाईपास (पूर्वी), इसलामपुर बाईपास, नूरसराय बाईपास, नूरसराय-सिलाव पथ, तेलमर नरसंडा सालेपुर पथ, राष्ट्रीय राजमार्ग-31 (बख्तियारपुर- रजौली खंड) के फोरलेन निर्माण, भारतमाला परियोजना के तहत एनएच-119 डी (आमस-रामनगर) पथ,दरियापुर वीयर आदि परियोजनाओं से संबंधित भू-अर्जन कार्य की एक-एक कर समीक्षा की गई।हिलसा पूर्वी बाईपास के लिए 6 मौजे के 548 अवार्डी से लगभग 47 एकड़ भूमि अर्जित की गई है।इनमें से 397 अवॉर्डी द्वारा मुआवजे की राशि प्राप्त की गई है। शेष लोगों से भी आवश्यक दस्तावेज प्राप्त कर मुआवजे का त्वरित भुगतान सुनिश्चित करने का निदेश दिया गया।इसलामपुर बाईपास के लिए 5 मौजे के 479 अवार्डी से लगभग 55 एकड़ भूमि अर्जित की गई है।इनमें से 251 अवॉर्डी द्वारा मुआवजे की राशि प्राप्त की गई है।शेष अवार्डी को भुगतान में तेजी लाने के लिए विशेष शिविर लगाकर आवश्यक दस्तावेज प्राप्त करने को कहा गया।नूरसराय बाईपास के लिए 4 मौजे के 152 अवार्डी से लगभग 23 एकड़ भूमि अर्जित की गई है, अबतक 61 अवार्डी द्वारा भुगतान प्राप्त किया गया है। नूरसराय-सिलाव पथ के लिए 16 मौजे के 1195 अवॉर्डी से लगभग 124 एकड़ भूमि अर्जित की गई है।इनमें से अबतक 767 अवार्डी द्वारा मुआवजे की राशि प्राप्त की गई है।शेष को भी त्वरित भुगतान सुनिश्चित करने का निदेश दिया गया।अन्य सभी परियोजनाओं के लिए भी भू-अर्जन से संबंधित लंबित मुआवजे के भुगतान में तेजी लाने का निदेश दिया गया। इसके लिए नियमित रूप से विशेष शिविर लगाकर भू धारियों से आवश्यक दस्तावेज प्राप्त करने तथा जरूरतमंद को एलपीसी निर्गत करने को कहा गया।बैठक में अपर समाहर्त्ता, जिला भू-अर्जन पदाधिकारी, सभी भूमि सुधार उपसमाहर्त्ता,संबंधित कार्यकारी विभागों के कार्यपालक अभियंता एवं अंचलाधिकारी उपस्थित थे।

post-author

Realated News!

Leave a Comment

Sidebar Banner
post-author
post-author
post-author
post-author