BREAKING NEWS
मुख्यमंत्री के गृह जिले में 'सात निश्चय' योजना अधूरी : 10 साल बाद भी नल जल से वंचित गांव...        कोसुक डंपिंग यार्ड से निकलने वाले जहरीले धुएं से ग्रामीण परेशान : ग्रामीणों की सेहत पर खतरा...        नालंदा में ग्रामीण विकास मंत्री के ही क्षेत्र में नही हुआ है सड़कों का विकास...        रामनवमी जुलूस और लोकसभा चुनाव प्रशासन की प्रतिबद्धता : शांतिपूर्ण और निष्पक्ष तरीके से होगा आयोजन...        रामलखन सिंह यादव महाविद्यालय के छात्रों ने लोकतंत्र को करीब से समझा : आखिर कैसे पढ़िए पूरी खबर...        रामनवमी शोभा यात्रा को स्थगित किए जाने को लेकर विहिप द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति है भ्रामक : जिला प्रशासन करेगी जांच...        क्षेत्र भ्रमण के दौरान जनता ने सांसद कौशलेंद्र कुमार को दिखाया सच का आईना...        वर्ग 5 एवं वर्ग 8 की वार्षिक परीक्षा समाप्ति के उपरांत शिक्षक व अभिभावक का बैठक आयोजन...        बिहारशरीफ में पंचाने नदी के किनारे युवक का शव मिलने से सनसनी...        है तैयार हम : नालंदा पुलिस द्वारा जिले से अपराधी व अपराध का सफाया अभियान जारी...       
post-author
post-author
post-author
post-author

विश्वा इंटरनेशनल व किड्स जोन प्ले स्कूल में डॉ. भीमराव अंबेडकर की जयंती बनाई गई।

Bihar 14-Apr-2023   9558
post

Nalanda : बिहारशरीफ शहर के न्यू नाला रोड (मुसादपुर) स्थित विश्वा इंटरनेशनल स्कूल व किड्स जोन प्ले स्कूल में धूमधाम से डॉ. भीमराव अंबेडकर की जयंती मनाई गई। जहां शिक्षकों एवं छात्र छात्राओं ने बारी-बारी डॉ. अंबेडकर की चित्र पर माल्यार्पण व पुष्पांजलि कर श्रद्धा सुमन अर्पित किया। बच्चों ने डॉ. अंबेडकर के आदर्शों पर चलकर आगे बढ़ने की प्रेरणा ली एवं प्रत्येक दिन निर्धारित समय पर विद्यालय आने की शपथ ली। स्कूल के प्रधानाचार्य श्रीमती प्रफुल्लता ने बाबा साहब के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा की बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर संविधान के निर्माता रहे। संविधान को लिखने में उनकी बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका रही है। बाबा साहब की जयंती जातिगत भेदभाव और उत्पीड़न जैसी सामाजिक बुराइयों से लड़ने के रूप में भी मनाया जाता है। डॉक्टर भीमराव अंबेडकर समाज से छुआछूत मिटाते हुए समाज को एक सूत्र में बांधने का प्रयास किया गया। बाबा साहब बहुत ही सरल स्वभाव व उच्च विचार रखते थे हम सभी को उनके पद चिन्हों पर ही चलना चाहिए ताकि समाज को एक सूत्र में पिरोया जा सके। इस दौरान स्कूल की सभी छात्र छात्राएं व शिक्षक, शिक्षकाएं मौजूद थे।

post-author

Realated News!

Leave a Comment

Sidebar Banner
post-author
post-author
post-author
post-author