BREAKING NEWS
मुख्यमंत्री के गृह जिले में 'सात निश्चय' योजना अधूरी : 10 साल बाद भी नल जल से वंचित गांव...        कोसुक डंपिंग यार्ड से निकलने वाले जहरीले धुएं से ग्रामीण परेशान : ग्रामीणों की सेहत पर खतरा...        नालंदा में ग्रामीण विकास मंत्री के ही क्षेत्र में नही हुआ है सड़कों का विकास...        रामनवमी जुलूस और लोकसभा चुनाव प्रशासन की प्रतिबद्धता : शांतिपूर्ण और निष्पक्ष तरीके से होगा आयोजन...        रामलखन सिंह यादव महाविद्यालय के छात्रों ने लोकतंत्र को करीब से समझा : आखिर कैसे पढ़िए पूरी खबर...        रामनवमी शोभा यात्रा को स्थगित किए जाने को लेकर विहिप द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति है भ्रामक : जिला प्रशासन करेगी जांच...        क्षेत्र भ्रमण के दौरान जनता ने सांसद कौशलेंद्र कुमार को दिखाया सच का आईना...        वर्ग 5 एवं वर्ग 8 की वार्षिक परीक्षा समाप्ति के उपरांत शिक्षक व अभिभावक का बैठक आयोजन...        बिहारशरीफ में पंचाने नदी के किनारे युवक का शव मिलने से सनसनी...        है तैयार हम : नालंदा पुलिस द्वारा जिले से अपराधी व अपराध का सफाया अभियान जारी...       
post-author
post-author
post-author
post-author

संघ शिक्षा वर्ग का समापन समारोह आयोजित

Bihar 09-Jun-2023   10124
post

नालंदा : शुक्रवार को कालावधि- ज्येष्ठ शुक्ल प्रतिपदा 20 मई से आषाढ़ कृष्ण सप्तमी, शनिवार, 10 जून 2023 तक चलने वाले संघ शिक्षा वर्ग प्रथम एवं द्वितीय वर्ष स्वर्ग दक्षिण बिहार ,उत्तर पूर्व क्षेत्र का शुक्रवार को समापन समारोह का कार्यक्रम पूजय तपस्वी जगजीवन जी महाराज सरस्वती विद्या मंदिर, हसनपुर, राजगीर, नांलदा के प्रांगण में प्रगट समारोह में मनाया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रुप में नालंदा जिला निवासी पदमश्री कपिलदेव प्रसाद ,मुख्य अतिथि के रुप में डॉ. मोहन सिंह, क्षेत्र कार्यवाह, उ.पू.क्षेत्र ,- मुख्य वक्ता के रूप में डॉ. राजकिशोर सिंह, - मा. सर्वाधिकारी, द्वितीय वर्ष, डॉ. गजेंद्र देव शर्मा - मा. वर्गाधिकारी, प्रथम वर्ष एवं मंच संचालनकर्त्ता के रुप में राजन पांडेय ने किया इस अवसर पर डॉ. मोहन सिंह ने अपने उद्बोधन-मे कहा की भारत एक प्राचीन राष्ट्र है। इसके निर्माण में अनेकों ऋषियों, संत और महापुरुषों ने त्याग, बलिदान और समर्पण दिए हैं। शिवाजी महाराज ने इस राष्ट्र को सबल, संगठित और गौरव को स्थापित करने के लिए संघर्ष किए। हिंदु स्वाभिमान की रक्षा की। गुरु गोविंद सिंह ने अपने पुत्रों का बलिदान इस राष्ट्र के स्वाभिमान के लिए कार्य किया। प.पू. डॉ. जी ने इस राष्ट्र के प्राचीन गौरव को स्थापित करने के लिए शाखा जैसी अभिनव पद्धति का निर्माण किया। भारतीय परिप्रेक्ष्य में इस राष्ट्र को आगे बढ़ाने के लिए समाज के पुनर्निर्माण की आवश्यकता है। शताब्दी वर्ष तक विस्तार के लिए। आज की परिस्थितियों में संस्कार और संस्कृति की रक्षा के लिए समाज को संघ का सहभागी बनने की आवश्यकता है। मुख्य अतिथि पदम श्री कपिलदेव प्रसाद कहां की संघ एक देशभक्त संगठन है। सह सदैव देश सेवा में लगा रहता है। कोरोना कालखंड में मैंने देखा है कि कैसे संघ के लोग दिन-रात सहृदयता से कार्य करते थे।यहां प्रशिक्षण लेने वाले कार्यकर्ता से आग्रह है कि सभी अपने क्षेत्र में जाकर सक्रिय होकर कार्य करें संघ के स्वयंसेवकों के विभिन्न प्रकार के उत्कृष्ट शारीरिक प्रदर्शनों की उन्होंने भूरी भूरी प्रशंसा की, इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से संघ के अन्य अधिकारी गणों की उपस्थित रहे अरुण जैन, अखिल भारतीय सह प्रचारक प्रमुख रामनवमी प्रसाद, क्षेत्र प्रचारक, वीणेश, सह क्षेत्र कार्यवाह, मनोज, क्षेत्र सह शारीरिक शिक्षण प्रमुख, राणाप्रताप, क्षेत्र बौद्धिक शिक्षण प्रमुख, उमेश, प्रांत प्रचारक, दक्षिण बिहार, आशीष कुमार, सह प्रांत प्रचारक, दक्षिण बिहार आदि मौजूद थे।

post-author

Realated News!

Leave a Comment

Sidebar Banner
post-author
post-author
post-author
post-author