BREAKING NEWS
मुख्यमंत्री के गृह जिले में 'सात निश्चय' योजना अधूरी : 10 साल बाद भी नल जल से वंचित गांव...        कोसुक डंपिंग यार्ड से निकलने वाले जहरीले धुएं से ग्रामीण परेशान : ग्रामीणों की सेहत पर खतरा...        नालंदा में ग्रामीण विकास मंत्री के ही क्षेत्र में नही हुआ है सड़कों का विकास...        रामनवमी जुलूस और लोकसभा चुनाव प्रशासन की प्रतिबद्धता : शांतिपूर्ण और निष्पक्ष तरीके से होगा आयोजन...        रामलखन सिंह यादव महाविद्यालय के छात्रों ने लोकतंत्र को करीब से समझा : आखिर कैसे पढ़िए पूरी खबर...        रामनवमी शोभा यात्रा को स्थगित किए जाने को लेकर विहिप द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति है भ्रामक : जिला प्रशासन करेगी जांच...        क्षेत्र भ्रमण के दौरान जनता ने सांसद कौशलेंद्र कुमार को दिखाया सच का आईना...        वर्ग 5 एवं वर्ग 8 की वार्षिक परीक्षा समाप्ति के उपरांत शिक्षक व अभिभावक का बैठक आयोजन...        बिहारशरीफ में पंचाने नदी के किनारे युवक का शव मिलने से सनसनी...        है तैयार हम : नालंदा पुलिस द्वारा जिले से अपराधी व अपराध का सफाया अभियान जारी...       
post-author
post-author
post-author
post-author

सदर अस्पताल व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में उत्पाद विभाग की छापेमारी : आउटसोर्सिंग स्टाफ गिरफ्तार, 2 बोतल शराब बरामद

Bihar 21-Jul-2023   10288
post

बिहारशरीफ : बिहार में शराब बंदी कानून लागू है इसके बावजूद सदर अस्पताल व सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में शराब पीने का सिलसिला जारी है। वहीं बिहार की स्वास्थ व्यवस्था ऐसी है की समय पर डॉक्टर नहीं पहुंचते है लेकिन उत्पाद विभाग की टीम छापेमारी के लिए सरकारी अस्पताल पहुंच रही है। अस्पताल में दवा नही मिलता लेकिन दारू का पाउच धररले से मिल रहा है। जहां सिविल सर्जन को नजर रखना चाहिए वहां अब उत्पाद विभाग नजर रख रही है और ये सब सिर्फ बिहार में संभव है। यही दुर्भाग्य है बिहार की स्वास्थ विभाग का। गुरुवार को सदर अस्पताल बिहारशरीफ में भारी मात्रा में शराब की टेट्रा पैक फेंका हुआ पाया गया था। जिसके बाद अस्पताल के सुरक्षा पर कई सवाल खड़े हो गए। सिविल सर्जन ने इसे साजिश बताया लेकिन कहां है सदर अस्पताल बिहारशरीफ के वो 46 सीसीटीवी कैमरे जो इस साजिश को कैद नही कर सका। इस मामले को दैनिक जागरण ने गंभीरता से प्रकाशित किया था जिसके बाद उत्पाद विभाग की टीम द्वारा शुक्रवार को बिहारशरीफ सदर अस्पताल और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रहुई में छापेमारी की गई। अचानक अस्पताल में पुलिस के पहुंचने से लोक आश्चर्य में पड़ गया तमाम तरह की बातें होने लगी । अस्पताल में भर्ती मरीज एवं उनके परिजनों को लगा कि किसी कैदी को लाया गया है । हालांकि बाद में पता चला कि पुलिस अस्पताल शराब ढूंढ रही हैं। प्राप्त सूत्रों के अनुसार छापेमारी के दौरान सदर अस्पताल बिहारशरीफ में दीदी के रसोई की छत पर भारी मात्रा में देशी शराब के पॉलिथिन फेकें हुए देखे गए। जबकि उत्पाद विभाग टीम द्वारा पूरे अस्पताल परिसर में घंटो तक छापेमारी की गई और लोगों को हिदायते भी दी गई। वहीं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रहुई में उत्पाद विभाग द्वारा घंटो तक छापेमारी की गई। सूत्रों के अनुसार बताया गया की छापेमारी के दौरान सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रहुई के आउटसोर्सिंग स्टाफ चितरंजन कुमार उर्फ बबलू को 2 बोतल मैकडॉवेल नंबर 1 शराब के साथ गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं इस छापेमारी को लेकर उत्पाद अधीक्षक ने बताया की फिलहाल अभी छापेमारी जारी है सभी सरकारी अस्पतालों पर हमारी नजर बनी हुई है जो भी शराब बिक्री या शराब पीते पकड़े गए तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी।

post-author

Realated News!

Leave a Comment

Sidebar Banner
post-author
post-author
post-author
post-author